मुद्रास्फीति के अच्छे आंकड़ों के बाद निफ्टी में आया उछाल – indias.news

मुंबई, 13 फरवरी . मोतीलाल ओसवाल फाइनेंशियल सर्विसेज के खुदरा अनुसंधान प्रमुख सिद्धार्थ खेमका ने कहा कि भारत की सीपीआई मुद्रास्फीति तीन महीने के निचले स्तर 5.10 प्रतिशत पर आने के बाद निफ्टी ने सोमवार की गिरावट के बाद मंगलवार को जोरदार वापसी की.

निफ्टी 127 अंक या 0.59 प्रतिशत बढ़कर 21,743.25 पर बंद हुआ, वहीं सेंसेक्स 483 अंक या 0.68 प्रतिशत बढ़कर 71,555.19 पर बंद हुआ.

मेटल को छोड़कर सभी सेक्टर हरे निशान में बंद हुए. बैंकिंग और वित्तीय सेवाएं शीर्ष लाभ में रहीं. पिछले कुछ सत्रों में मुनाफावसूली देखने के बाद पीएसयू सेक्टर में वापसी हुई. खेमका ने कहा, दूसरी ओर, रिलायंस 20 लाख रुपए बाजार पूंजीकरण को पार करने वाली पहली भारतीय कंपनी बन गई.

एमएससीआई ग्लोबल स्टैंडर्ड इंडेक्स में मंगलवार को तिमाही बदलाव देखा गया, जिससे एफआईआई लगभग 1 बिलियन डॉलर का निवेश कर सकता है. उन्होंने कहा कि एनएमडीसी, जीएमआर एयरपोर्ट्स, यूनियन बैंक, बीएचईएल और पंजाब नेशनल बैंक जैसे कई स्टॉक एमएससीआई समीक्षा के बाद फोकस में हैं.

दो दिनों के करेक्शन के बाद व्यापक बाजार में कुछ सुधार देखा गया. वैश्विक स्तर पर सकारात्मक ट्रिगर की कमी और घरेलू तीसरी तिमाही की मिली जुली आय को देखते हुए, निफ्टी के व्यापक दायरे में बने रहने की उम्मीद है.

खेमका ने कहा कि सभी की निगाहें मंगलवार को जारी होने वाले अमेरिकी मुद्रास्फीति आंकड़ों पर होंगी. यह यूएस फेड ब्याज दर में कटौती के दृष्टिकोण से अहम होगा.

जियोजित फाइनेंशियल सर्विसेज के शोध प्रमुख विनोद नायर ने कहा कि बैंकिंग क्षेत्र में बढ़त के कारण घरेलू बाजार सोमवार के नुकसान से काफी हद तक उबर गया. घरेलू मुद्रास्फीति में गिरावट से सेंटीमेंट्स ठीक हुए हैं, जिससे ग्रामीण मांग बढ़ने की उम्मीद है.

/