कोच बार्टोनिट्ज को ही बनाये रखना चाहते हैं नीरज

नई दिल्ली (New Delhi) . ओलंपिक स्वर्ण पदक विजेता भाला फेंक खिलाड़ी नीरज चोपड़ा ने कहा है कि वह 2024 के पेरिस ओलंपिक खेलों तक जर्मनी के क्लाउस बार्टोनिट्ज को ही कोच के तौर पर बरकरार रखेंगे. नीरज ने कहा कि वर्तमान कोच बार्टोनिट्ज ही बेहतर हैं. इसलिए उनके साथ करार जारी रहेगा. चोपड़ा ने कहा कि बार्टोनिट्ज के तरीके उनके अनुकूल हैं. क्योंकि यह बायो-मैकेनिक विशेषज्ञ गंभीर सत्रों के दौरान भी हंसी मजाक के साथ ही माहौल खुशनुमा बना देता है. नीरज ने देश के पहले व्यक्तिगत ओलंपिक स्वर्ण पदक विजेता अभिनव बिंद्रा की मौजूदगी में कहा कि कई बार, अभ्यास सत्र के दौरान मैं बहुत गंभीर नहीं रहना चाहता हूं. कई कोच ऐसे होते हैं, जो डंडा पकड़ के पीछे खड़े होते हैं लेकिन क्लाउस सर ऐसे नहीं है. इस 23 साल के खिलाड़ी ने कहा कि अभ्यास में जब भी हमें गंभीर और पूरा दमखम लगाना होता है, तो हम गंभीरता से काम करते हैं पर सत्र के बीच में कभी-कभी वह चुटकुले सुनाते हैं और इससे प्रशिक्षण के दौरान माहौल हल्का हो जाता है.
नीरज ने कहा कि उनके प्रशिक्षण के तरीके मेरे अनुकूल हैं और मेरी उनसे काफी अच्छी बनती है. मैं अगले ओलंपिक के लिए भी उनके साथ प्रशिक्षण जारी रखना चाहता हूं. चोपड़ा 2019 से बार्टोनिट्ज के साथ प्रशिक्षण ले रहे हैं. वह पहले जर्मनी के ही पूर्व विश्व रिकॉर्ड धारक उवे होन की देख रेख में प्रशिक्षण ले रहे थे, जिन्हें हाल ही में भारतीय एथलेटिक्स महासंघ ने उनके वेतन और प्रशिक्षण विधियों सहित कई मतभेदों के कारण हटा दिया था.

Check Also

आईपीएल के 2022 सत्र की नीलामी में भाग लेने रुट

लंदन . इंग्लैंड टीम के टेस्ट कप्तान जो रूट भी इंडियन प्रीमियर लीग (आईपीएल (Indian …