हत्या के आरोप में सांसद गिरफ्तार

नई दिल्ली (New Delhi) . तमिलनाडु (Tamil Nadu) में काजू की एक फैक्ट्री के एक मजदूर कीहत्या (Murder) के आरोप में डीएमके के सांसद (Member of parliament) टीआरवीएस रमेश को गिरफ्तार किया गया है. रमेश फैक्ट्री के मालिक हैं और उन पर पांच और लोगों के साथ मिलकर उस मजदूर का उत्पीड़न करने का आरोप है.मामला तमिलनाडु (Tamil Nadu) के कड्डलोर के पास पनरुति स्थित एक काजू फैक्ट्री का है. 20 सितंबर को फैक्ट्री में काम करने वाले 60-वर्षीय मजदूर के गोविंदरासु का निधन हो गया था. चेन्नई (Chennai) में काम करने वाले उनके बेटे को पहले तो यह बताया गया कि गोविंदरासु ने आत्महत्या कर ली, लेकिन जब उनके शरीर पर चोट के निशान मिले तब उनके बेटे ने पुलिस (Police) विभाग में शिकायत दर्ज कराई. शिकायत पर पुलिस (Police) ने जांच की और जांच के प्राथमिक नतीजों से इस निष्कर्ष पर पहुंची कि किसी विवाद की वजह से कुछ लोगों ने मिलकर गोविंदरासु का उत्पीड़न किया जिसके बाद उनकी मौत हो गई. आखिरकार उन्होंने 11 अक्टूबर को आत्मसमर्पण कर दिया जिसके बाद उन्हें दो दिन की न्यायिक हिरासत में भेज दिया गया. गिरफ्तार किए जाने से पहले रमेश ने एक बयान जारी कर उन पर लगे आरोपों से इनकार किया था और पूरे मामले को “विपक्ष का राजनीतिक प्रचार” बताया था. दागी जन प्रतिनिधि विपक्षी पार्टी पीएमके ने राज्य सरकार (State government) पर रमेश को बचाने की कोशिश करने का आरोप लगाया था. भारत में सांसदों को आपराधिक मामलों में गिरफ्तार करने पर कोई मनाही नहीं है, बस गिरफ्तारी की सूचना संसद को दे देनी होती है. संसद अगर सत्र में हो और सांसद (Member of parliament) संसद के परिसर में हो तो उसे गिरफ्तार करने से पहले पुलिस (Police) को उसके सदन के पीठासीन अधिकारी की इजाजत लेनी पड़ती है. बतौर सांसद (Member of parliament) रमेश का यह पहला कार्यकाल है. इससे पहले उनके खिलाफ कोई आपराधिक मामला दर्ज नहीं था. एसोसिएशन फॉर डेमोक्रेटिक रिफॉर्म्स एनजीओ के मुताबिक इस समय कुल 363 सांसदों और विधायकों के खिलाफ घोषित रूप से आपराधिक मामले दर्ज हैं. इनमें 67 सांसद (Member of parliament) शामिल हैं.

Check Also

असम में 8 करोड़ रुपए मूल्य की हेरोइन जब्त 2 तस्कर गिरफ्तार

नई दिल्ली (New Delhi) . असम के नगांव और कार्बी आंगलोंग जिलों में पुलिस (Police) …