मोदी सरकार ने हराया पाक से मैच ताकि हिंदू-मुस्लिम विवाद पैदा हो

नई दिल्ली (New Delhi) . टी-20 विश्वकप में भारत अपने चिर प्रतिद्वंदी पाकिस्तान से बुरी तरीके से हार गया. भारत के लिए यह हार और भी बड़ी थी क्योंकि अब तक के विश्व कप मुकाबलों में भारत कभी भी पाकिस्तान से पराजित नहीं हुआ था. इसको लेकर देश में नाराजगी भी है. हालांकि लोग खेल में जीत-हार होने की बात को भी स्वीकार कर रहे हैं. इन सबके बीच किसान नेता राकेश टिकैत ने इस पर अजीबोगरीब बयान दिया है. राकेश टिकैत ने कहा कि मुझे गांव के लोगों ने बताया कि भारत सरकार ने मैच हरा दिया है ताकि इससे दो समुदायों में विवाद पैदा हो सके.

टिकैत के इस जवाब के बाद टिकैत ने कहा कि वह केवल सरकार पर आरोप लगा रहे हैं. उन्होंने कहा कि यह मैच मोदी सरकार ने हरवाया है ताकि देश के कुछ हिस्सों में पटाखे फूटे और यहां पर हिंदू-मुसलमान के बीच विवाद हो जाए. राकेश टिकैत ने यह भी कहा कि बीसीसीआई अध्यक्ष पर भी उनका यह आरोप है. सरकार ने बीसीसीआई अध्यक्ष से कुछ कहा होगा. सरकारी मैच फिक्सिंग यही होती है. बल्लेबाजों के लचर प्रदर्शन और गेंदबाजों के परिस्थितियों के अनुकूल गेंदबाजी करने में नाकाम रहने के कारण भारत को आईसीसी टी20 विश्व कप के सुपर 12 के ग्रुप दो मैच में पाकिस्तान से 10 विकेट से करारी हार का सामना करना पड़ा, जिससे उसका अपने इस चिर प्रतिद्वंद्वी के खिलाफ पिछले 29 वर्षों से चला आ रहा विजय अभियान भी थम गया. भारत ने विश्व कप (वनडे और टी20) में 1992 के बाद इस मैच से पहले तक सभी 12 मैचों (वनडे में सात और टी20 में पांच) में जीत दर्ज की थी, लेकिन पहले शाहीन शाह अफरीदी (31 रन देकर पांच) की अगुवाई में पाकिस्तानी गेंदबाजों के सामने उसके बल्लेबाज नहीं चले और बाद में रही सही कसर कप्तान बाबर आजम (52 गेंद पर नाबाद 68, छह चौके, दो छक्के) और मोहम्मद रिजवान (55 गेंदों पर नाबाद 79, छह चौके तीन छक्के) की पहले विकेट के लिये अटूट शतकीय साझेदारी ने पूरी कर दी.

Check Also

इस हफ्ते 10 करोड़ हो जाएगी असंगठित क्षेत्र के श्रमिकों के ई-श्रम पोर्टल पर पंजीकरण की संख्या

नई दिल्ली (New Delhi) . सरकार के ई-श्रम पोर्टल पर पंजीकृत असंगठित श्रमिकों का आंकड़ा …