MLSU अब हर विभाग लेगा एक गांव को गोद, भामाशाह के सहयोग से बांटी जाएगी 5 हज़ार साड़ियां


उदयपुर (Udaipur). मोहनलाल सुखाड़िया विश्वविद्यालय का प्रत्येक विभाग अब आसपास के किसी एक गांव को गोद लेगा तथा वहां विकास एवं जन जागरूकता के कार्य में अपना योगदान देगा. इस आशय का निर्णय कुलपति प्रोफ़ेसर अमेरिका सिंह की अध्यक्षता में बुधवार (Wednesday) को आयोजित विभागाध्यक्षों की बैठक में लिया गया. विश्वविद्यालय के प्रवक्ता डॉ कुंजन आचार्य ने बताया कि जिस प्रकार विश्वविद्यालय ने कैलाशपुरी गांव को गोद ले रखा है, उसी प्रकार अब हर विभाग आसपास के किसी गांव को गोद लेगा.

बैठक में निर्णय किया गया कि विश्वविद्यालय की सभी छात्रावासों की मरम्मत की जाएगी एवम एवं छात्रों के हित में वहां सुविधाओं का विस्तार किया जाएगा. बैठक में यह भी निर्णय किया गया कि अगर कोई स्वयंसेवी संस्था अथवा कोई व्यक्ति यदि विश्वविद्यालय परिसर में सीएसआर के तहत कोई उद्यान विकसित करना चाहे तो वह गोद ले सकेगा.

कुलपति प्रोफ़ेसर सिंह ने विभागाध्यक्षों को सूचित किया कि भामाशाह के सहयोग से ग्रामीण अंचल में आदिवासी महिलाओं पांच हज़ार साड़ियां वितरीत की जाएगी. इसका पहला चरण पंचायत कब सहयोग से कैलाश पुरी में वितरण किया जाएगा. उसके बाद अलग-अलग गांव में पंचायतों के सहयोग से इनका वितरण किया जाएगा. बैठक में निर्णय किया गया कि उत्तर शिक्षा अभियान (रुसा) के तीसरे चरण में सभी लोग संसाधन विकसित करने के लिए प्रोजेक्ट बनाएं एवं सरकार को भिजवाएं.

Check Also

चलती कार में आग, 5 गुजराती पर्यटकों ने कूदकर बचाई जान

उदयपुर (Udaipur). जिले के सायरा थाना क्षेत्र में उदयपुर (Udaipur) की ओर आ रही एक …