मिलिंद देवड़ा ने बताया पीएम मोदी कैसे राजनीतिक हितों से ऊपर उठकर राष्ट्रीय हितों को देते हैं प्राथमिकता

Photo of author

नई दिल्ली, 13 मई . प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी का लोगों के साथ संबंध और दूसरों के प्रति सम्मान हमेशा राजनीतिक स्तर से ऊपर रहता है. इस बात को विपक्ष के नेता भी मानते हैं. वह किसी के साथ व्यक्तिगत संबंधों को और उनके सम्मान को कितना अहमियत देते हैं, इसके बारे में पूर्व वरिष्ठ कांग्रेस नेता स्वर्गीय मुरली देवड़ा के बेटे और नेता मिलिंद देवड़ा ने बताया.

मिलिंद देवड़ा ने उन दिनों को याद किया जब नरेंद्र मोदी गुजरात के मुख्यमंत्री के रूप में कार्य कर रहे थे. इसी दौरान मिलिंद की पहली मुलाकात नरेंद्र मोदी से हुई थी.

इसी पहली मुलाकात को याद करते हुए उन्होंने बताया कि नरेंद्र मोदी का किसी से भी व्यक्तिगत जुड़ाव और उसके बारे में उनकी जानकारी से वह आश्चर्यचकित हो गए थे.

दरअसल मिलिंद देवड़ा ने पीएम मोदी के साथ अपनी पहली मुलाकात को याद करते हुए बताया कि भाजपा के दिवंगत नेता प्रमोद महाजन के अंतिम संस्कार में उनकी मुलाकात मंच पर पीएम मोदी से हुई, जो उनके सामने बैठे थे. उन्होंने कहा कि “नरेंद्र मोदी मेरे ठीक सामने बैठे थे, और मैंने उनका अभिवादन किया. वह पीछे मुड़े और पूछा, ‘मिलिंद भाई, कैसे हैं आप?’ मैं आश्चर्यचकित था क्योंकि मैं राजनीति में बहुत नया था और मेरी उम्र महज 27 साल की थी, बहुत कम लोगों ने मुझे पहचाना. तभी मुझे लग गया था कि वह कैसे हर किसी का ध्यान रखते हैं और हर किसी को उनके नाम से जानते हैं.”

मिलिंद देवड़ा ने कहा कि पीएम मोदी दलगत राजनीति से ऊपर उठकर सभी को सम्मान देते हैं. ऐसा ही एक मौका था ह्यूस्टन में हाउडी मोदी कार्यक्रम के दौरान. तब अमेरिका के राष्ट्रपति डोनाल्ड ट्रंप थे और इस कार्यक्रम में मंच पर वह पीएम मोदी के साथ उपस्थित थे. पीएम मोदी वहां रह रहे प्रवासी भारतीयों को संबोधित कर रहे थे. इसके बाद पीएम मोदी ने एक ट्वीट किया था.

मिलिंद ने कहा, ”पीएम मोदी ने ट्वीट किया और भारत-अमेरिका संबंधों को बढ़ावा देने में मेरे पिता स्वर्गीय मुरली देवड़ा के योगदान को स्वीकार करते हुए उन्होंने लिखा, ‘मेरे मित्र मुरली देवड़ा सचमुच बहुत खुश होंगे.’ मिलिंद ने कहा कि पीएम मोदी के इस भाव ने मेरे परिवार और पार्टी कार्यकर्ताओं सहित सभी को प्रभावित किया.”

उन्होंने आगे कहा कि नरेंद्र मोदी राजनीतिक हितों से ऊपर उठकर राष्ट्रीय हितों को प्राथमिकता देने वाले नेता हैं.

जीकेटी/