मानसिक स्वास्थ्य समग्र स्वास्थ्य का एक अनिवार्य हिस्सा है: स्वास्थ्य मंत्री मनसुख मंडाविया


नई दिल्ली (New Delhi) . “मानसिक स्वास्थ्य समग्र स्वास्थ्य का एक अनिवार्य घटक है और इसके बारे में जागरूकता इसे लेकर व्याप्त धारणाओं को दूर करने में काफी मदद करेगी. “केंद्रीय स्वास्थ्य और परिवार कल्याण मंत्री डॉ. मनसुख मंडाविया ने आज यहां ‘ग्रीन रिबन’ पहल की शुरुआत करते हुए यह बात कही. इस कार्यक्रम का आयोजन केंद्रीय स्वास्थ्य और परिवार कल्याण मंत्रालय द्वारा हंसराज कॉलेज, दिल्ली के साथ साझेदारी में किया गया था. यह कार्यक्रम मानसिक स्वास्थ्य पर जागरूकता बढ़ाने के लिए चल रहे मानसिक स्वास्थ्य जागरूकता सप्ताह, 5-10 अक्टूबर के दौरान की जा रही गतिविधियों के हिस्से के रूप में आयोजित किया गया. 10 अक्टूबर को दुनिया भर में विश्व मानसिक स्वास्थ्य दिवस के रूप में मनाया जाता है.

डॉ. मनसुख मंडाविया ने मानसिक स्वास्थ्य के प्रति जागरूकता फैलाने के लिए केंद्रीय स्वास्थ्य मंत्रालय के अधिकारियों और उपस्थित मीडिया (Media) कर्मियों के बीच ग्रीन रिबन का वितरण किया. उन्होंने हंसराज कॉलेज के छात्रों से अपने साथियों और समुदाय में मानसिक स्वास्थ्य के मुद्दों के बारे में जागरूकता फैलाने का भी आग्रह किया. उन्होंने कहा, “यह ग्रीन रिबन मानसिक स्वास्थ्य का प्रतीक है. हमें अपने समाज में मानसिक स्वास्थ्य के बारे में अधिक से अधिक जागरूकता फैलाने की जरूरत है.” डॉ. मंडाविया ने इस बात पर जोर दिया कि प्रगति के लिए सभी प्रकार का स्वास्थ्य और सेहत आवश्यक है. उन्होंने कहा, “स्वस्थ व्यक्तियों के बिना, एक स्वस्थ परिवार और व्यापक रूप में एक स्वस्थ समाज और एक स्वस्थ राष्ट्र नहीं होगा. खराब स्वास्थ्य, चाहे शारीरिक हो या मानसिक, खराब उत्पादकता की ओर ले जाता है जिससे राष्ट्रों की वृद्धि और उत्पादकता पर प्रतिकूल प्रभाव पड़ता है.”

Check Also

रेलवे में नौकरी दिलाने के नाम पर लोगों से ठगी करने वाले गिरोह का भंडाफोड़

नई दिल्ली (New Delhi) . दिल्ली पुलिस (Police) ने रेलवे (Railway)में नौकरी दिलाने के नाम …