राजौरी जिले से भारतीय वायु सेना में पहली महिला फाइटर पायलट बनी माव्या सूदन

श्रीनगर (Srinagar) . जम्मू-कश्मीर की रहने वाली माव्या सूदन राजौरी जिले से भारतीय वायु सेना में पहली महिला फाइटर पायलट बन गई हैं. माव्या सूदन राजौरी में नौशेरा की सीमा तहसील के लम्बेरी गाँव की रहने वाली हैं, उन्होंने फ़्लाइंग ऑफिसर के रूप में भारतीय वायु सेना में कमीशन किया. माव्या भारतीय वायुसेना में फाइटर पायलट के रूप में शामिल होने वाली राजौरी की 12वीं और पहली महिला अधिकारी बन गई हैं.

माया के पिता विनोद सूदन ने अपनी बेटी की उपलब्धि पर खुशी जाहिर की. उन्होंने कहा, “मुझे गर्व महसूस हो रहा है. अब वह सिर्फ हमारी बेटी नहीं बल्कि इस देश की बेटी है. हमें कल से बधाई संदेश मिल रहे हैं.” फाइटर पायलट की बहन मान्यता सूदन, जो माता वैष्णो देवी श्राइन बोर्ड में जेई हैं, ने बताया कि अपने स्कूल के दिनों से ही माव्या का झुकाव वायु सेना की ओर था और वह हमेशा से फाइटर पायलट बनना चाहती थीं. मां सुषमा सूदन ने कहा, “मुझे खुशी है कि उसने इतनी मेहनत की है और अपना लक्ष्य हासिल किया है. उसने हमें गर्व महसूस कराया है.”

2021-06-21
Previous जब एक रन आउट से दक्षिण अफ्रीका के हाथ से फिसला विश्व कप, दो- दो बार किस्मत ने दिया धोखा
Next सपा से जुड़े रहे उमेद ने गाजियाबाद में मुस्लिम बुजुर्ग की पिटाई को दिया सांप्रदायिक रंग

Check Also

महाराष्ट्र में रविवार को कोरोना संक्रमण के 6,843 नए मामले सामने आये

मुंबई (Mumbai) . महाराष्ट्र (Maharashtra) में रविवार (Sunday) को 24 घण्टों में कोरोना (Corona virus) …

Exit mobile version