सीएम केजरीवाल के दावों पर मनोज तिवारी का जवाब, कहा- ‘कमियों को छुपाने के लिए भ्रम फैलाने की कोशिश’

Photo of author

नई दिल्ली, 11 मई . भाजपा सांसद मनोज तिवारी ने दिल्ली के मुख्यमंत्री अरविंद केजरीवाल को एक बार फिर निशाने पर लिया है. उन्होंने कहा है कि भ्रष्टाचार के आरोप में जेल जाने वाले व्यक्ति को “अदालत की रहम पर” जमानत मिली है.

मनोज तिवारी ने एक्स पर एक पोस्ट में लिखा, “भ्रष्टाचार के आरोप में जेल जाने वाला कोर्ट की रहम पर बाहर आया है… वह नैतिकता की बातें कर रहा है… यह शोभा नहीं देता. अपने पाप को ढंकने के लिए दूसरों पर कीचड़ उछाल रहा है. जमानत पर है और गंभीर आरोपी है, भ्रम फैलाना चाह रहा है अपनी कमियां छुपाने के लिए, कहीं लोग ये ना पूछें कि पानी कब आएगा?”

उन्होंने कहा कि केजरीवाल ऐसा सिर्फ इसलिए कर रहे हैं ताकि कोई यह न पूछे कि गलियों में नालियां कब साफ होंगी. ताकि कोई यह न पूछे कि मंदिरों पर कब्जे क्यों हो रहे हैं. ताकि कोई यह न पूछे दे कि हवा गंदी क्यों है, यमुना गंदी क्यों है. उन्होंने कहा, “कोर्ट ने अगर आपको प्रचार-प्रसार करने के लिए जमानत दी है तो दिल्ली की जनता को बताइए कि बुजुर्गों का पेंशन क्यों बंद है, गरीबों का राशन कार्ड क्यों नहीं बन रहा है. दूसरों पर कीचड़ उछालना बहुत आसान है, अभी आप भ्रम फैलाने की बजाये ये बताएं कि आज दिल्ली रो क्यों रही है.”

दरअसल, सीएम केजरीवाल ने शुक्रवार को दावा किया था कि प्रधानमंत्री मोदी इन दिनों एक मिशन पर लगे हुए हैं. उस मिशन का नाम है ‘वन नेशन, वन लीडर’. केजरीवाल का दावा है कि पीएम मोदी देश के सभी नेताओं को खत्म करना चाहते हैं. चुनाव जीतने के बाद ममता दीदी, तेजस्वी यादव, एम.के. स्टालिन, पिनाराई विजयन, उद्धव ठाकरे समेत विपक्ष के तमाम नेताओं को पीएम मोदी जेल भेजेंगे.

बता दें कि दिल्ली शराब घोटाला मामले में सुप्रीम कोर्ट ने मुख्यमंत्री अरविंद केजरीवाल को 1 जून तक अंतरिम जमानत दी है. कोर्ट के निर्देशों के अनुसार केजरीवाल को 2 जून को वापस सरेंडर करना होगा.

पीएसके/एकेजे