बंगाल में दुर्गा पूजा पंडाल में सजी दिखी ममता की मूर्ति

कोलकाता (Kolkata) . पश्चिम बंगाल (West Bengal) में दुर्गा पूजा के आयजकों ने इस बार मुख्यमंत्री (Chief Minister) ममता बनर्जी की मूर्ति को पंडाल में स्थापित किया है. पंडाल में ममता बनर्जी की एक बड़ी मूर्ति लगाई गई है जिसके मां दुर्गा की तरह दस हाथ भी बनाए गए हैं. सीएम द्वारा शुरू की गई दस योजनाओं का दिखाते हुए मूर्ति को दस हाथ दिए गए हैं. पंडाल उत्तर 24 परगना के नजरूल पार्क उन्नयन समिति बागुईहाटी में स्थित है. इस मूर्ति को फाइबरग्लास से बनाया गया है. बागुईआटी नजरूल पार्क उन्नयन समिति के अध्यक्ष इंद्रनाथ बागुई ने बताया मूर्ति का हर हाथ लखी भंडार और अन्य ऐसी ही सरकार की पहलों में से एक का प्रतिनिधित्व करता है.”पूजा पंडाल में ममता बनर्जी सरकार की योजनाओं और नीतियों का प्रचार किया जा रहा है. मूर्ति को फाइबरग्लास से बनाया गया है. मूर्ति में ममता ने एक सफेद साड़ी पहनी है और ‘बिस्वा बांग्ला’ का लोगो भी है. पंडाल थीम आर्टिस्ट ने बताया कि सभी काविड-19 प्रोटोकॉल का पालन करते हुए पंडाल को पूरा करने में उन्हें लगभग 1.5 महीने का समय लगा. पंडाल थीम आर्टिस्ट अभिजीत ने कहा, “कार्यकर्ताओं को आने के लिए मनाना मुश्किल था. हमने सुनिश्चित किया कि उन सभी को अपने टीके मिल गए हैं. उसके बाद ही वे यहां काम करने के लिए सहमत हुए. दिशा-निर्देशों के अनुसार, पंडाल हर तरफ से खुले होने चाहिए, जिसमें अलग-अलग प्रवेश-निकास द्वार हों. पंडालों को मौजूदा काविड-19 महामारी (Epidemic) मानदंडों का पालन करने के लिए कड़े निर्देश दिए गए हैं. नवरात्रि का त्योहार 7 अक्टूबर से 15 अक्टूबर तक मनाया जाएगा. इस साल अष्टमी 13 अक्टूबर को है जबकि दशमी 15 अक्टूबर को है.

Check Also

कोरोना महामारी के कठिन वक्त में भी दोस्‍ती की कसौटी रहा भारत-आसियान : पीएम मोदी

नई दिल्‍ली . प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी (Prime Minister Narendra Modi) ने कहा कि कोरोना महामारी …