28 जून से भक्तों के लिए खुलेगा महाकाल मंदिर

भोपाल (Bhopal) . उज्जैन के महाकालेश्वर मंदिर आम श्रद्धालुओं के लिए 28 जून से खुल जाएगा. मंदिर में उन श्रद्धालुओं को ही प्रवेश दिया जाएगा, जो 48 घंटे पहले कोरोना की आरटी-पीसीआर निगेटिव रिपोर्ट या वैक्सीनेशन सर्टिफिकेट साथ ले जाएंगे. इसके साथ ही हर सिद्धि, काल भैरव और मंगलनाथ मंदिर भी खोल दिए जाएंगे. मंदिर में एक बार में 4 श्रद्धालु ही प्रवेश कर सकेंगे. नए दिशा-निर्देशों के लिए मंदिर समिति की बैठक होगी, जिसमें गाइडलाइन बनाई जाएगी.

शुक्रवार (Friday) को हुई आपदा प्रबंधन की बैठक में ये फैसला लिया गया. बैठक में बताया गया कि शहर अब पूरी क्षमता के साथ सुबह 6 बजे से शाम 7 बजे खोला जाएगा. बृहस्पति भवन में हुई बैठक में उच्च शिक्षा मंत्री मोहन यादव, विधायक पारस जैन, सांसद (Member of parliament) अनिल फिरोजिया, कलेक्टर (Collector) आशीष सिंह, एसपी सत्येंद्र शुक्ल समेत अन्य अफसर मौजूद थे. बैठक में उज्जैन शहर को अनलॉक करने को लेकर रजामंदी हुई. वहीं 15 जून से खुलने वाले महाकाल मंदिर समेत काल भैरव, हरसिद्धि और मंगलनाथ मंदिर को चरणबद्ध तरीके से खोला जाएगा, ताकि एक मंदिर खोलते से ही श्रद्धालुओं की भीड़ नहीं पहुंचे.

तीन मंदिरों को छोड़कर सभी मंदिर खुलेंगे

बैठक में निर्णय लिया गया, महाकाल मंदिर समेत तीन अन्य मंदिर को छोड़कर बाकी सभी मंदिर शनिवार (Saturday) से खुल जाएंगे. कलेक्टर (Collector) आशीष सिंह ने कहा कि महाकाल मंदिर, हरसिद्धि, काल भैरव और मंगलनाथ मंदिर में न सिर्फ देशभर से बल्कि बड़ी संख्या में विदेश से भी श्रद्धालु आते हैं. ऐसे में 28 जून से महाकाल मंदिर में ऐसे श्रद्धालुओं को ही प्रवेश मिलेगा, जो वैक्सीन के दोनों डोज लगवा चुके हों या फिर 48 घंटे पहले की आरटी-पीसीआर की निगेटिव टेस्ट रिपोर्ट साथ लाए. इसके अलावा मंदिर के बाहर कोरोना टेस्ट के लिए यूनिट भी रखी जा सकती है. अगर कोई श्रद्धालु बिना जानकारी पंहुचा, तो उसका एंटीजन टेस्ट करके भी रिपोर्ट निगेटिव आने के बाद प्रवेश मिल सकेगा. मंदिर खोलने से पहले मंदिर समिति की बैठक होगी, जिसमें सभी दिशा-निर्देश तय किए जाएंगे.

Check Also

जमीनी-आसमानी कीमतों पर लगाम कसने की तैयारी

भोपाल (Bhopal) . कीमतों के मामले में कभी जमीन तो कभी आसमान पर पहुंचने वाले …