#LOKSABHA2019: इन दिग्गजों की किस्मत का फैसला होगा EVM में कैद..

LOKSABHA ELECTION

नई दिल्ली. तमिलनाडु और त्रिपुरा की एक-एक सीट पर चुनाव टल गया है. दूसरे चरण में 12 राज्यों की 95 सीटों पर कल (11 अप्रैल) को वोटिंग है. कई दिग्गजों की किस्मत ईवीएम में कैद हो जाएगी.

लोकसभा चुनाव के दूसरे चरण में 18 अप्रैल को कुल 97 सीटों पर वोट डाले जाने थे लेकिन अब 95 सीटों पर ही वोट डाले जाएंगे. तमिलनाडु की वेल्लौर सीट पर चुनाव आयोग ने वोटिंग कैंसल कर दी है और अब त्रिपुरा की दूसरी सीट यानी त्रिपुरा पूर्वी पर वोटिंग को दूसरे चरण से बढ़ाकर तीसरे चरण में कर दिया गया है.

इस दौर में प्रमुख उम्मीदवारों में केंद्रीय मंत्री जुएल ओरांव, सदानंद गौडा और पी राधाकृष्णन, पूर्व प्रधानमंत्री एच डी देवगौड़ा, कांग्रेस नेता एम वीरप्पा मोइली तथा राज बब्बर, नेशनल कान्फ्रेंस अध्यक्ष फारूक अब्दुल्ला, बीजेपी नेता हेमा मालिनी और द्रमुक के दयानिधि मारन, ए राजा तथा कनिमोई शामिल हैं.

पूर्व पीएम एच डी देवगौडा
कर्नाटक की तुमकुर लोकसभा सीट सुर्खियों में है, यहां से पूर्व प्रधानमंत्री एचडी देवगौड़ा चुनावी मैदान में उतरे हैं. देवगौड़ के खिलाफ बीजेपी ने जीएस बसवाराज को उतारा है. ये सीट कांग्रेस की मजबूत सीटों में से एक मानी जाती है. पूर्व प्रधानमंत्री एचडी देवगौड़ा और उनके दो पोते अलग-अलग सीटों से चुनावी मैदान में उतरे हैं, जहां बीजेपी उम्मीदवारों से उनका सीधा मुकाबला है.

हेमा मालिनी
दूसरे चरण के लोकसभा चुनाव में यूपी की आठ सीटों पर चुनाव 18 अप्रैल को होने जा रहा है. इन आठ सीटों पर सबसे ज्यादा चर्चा मथुरा सीट की हो रही है. ड्रीम गर्ल हेमा मालिनी इस सीट से चुनाव लड़ रही.

गठबंधन की ओर से आरएलडी उम्मीदवार नरेंद्र सिंह, पार्टी अध्यक्ष अजीत सिंह के नाम पर जाट वोट मांग रहे हैं.वहीं बीजेपी उम्मीदवार हेमा मालिनी की ओर से उनके पति धर्मेंद्र जाट वोटों पर दावा ठोक रहे हैं. फिलहाल इस हाई प्रोफाइल सीट पर भी मुकाबला बीजेपी बनाम गठबंधन ही दिख रहा है.

Hema-malini-

राज बब्बर
दूसरे चरण के चुनावों में एक प्रमुख नाम राज बब्बर का भी है. जो फतेहपुर सीकरी लोकसभा सीट से चुनाव लड़ रहे हैं. 2008 में हुए परिसीमन के बाद फतेहपुर सीकरी लोकसभा सीट अस्तित्व में आई थी. राज बब्बर की टक्कर भाजपा के राजकुमार चाहर और गठबंधन के प्रत्याशी भगवान शर्मा उर्फ गुड्डू पंडित से है. बब्बर वर्ष 2009 में इसी सीट से बहुत मामूली अंतर से चुनाव हार गये थे.

Rajbabbar

कनिमोझी
राज्यसभा सदस्य कनिमोझी बीजेपी की राज्य इकाई की अध्यक्ष तमिलिसाई सौंदराराजन के खिलाफ तूतीकोरिन से लोकसभा चुनाव लड़ रही हैं. 2009 में तमिलनाडु की थूथुक्कुडी सीट वजूद में आई थी. यहां अब तक 2 बार लोकसभा चुनाव हुए हैं. 2009 में DMK के एसआर जयदुराई को यहां से जीते थे. इस बार इस सीट पर मुकाबला डीएमके की कनिमोजी करुणानिधि और बीजेपी के डॉ. तिमिलिसाई के बीच है. मतदान से 2 दिन पहले कनिमोझी के घर आयकर छापा पड़ा था.

IT Raid At Kanimojhi's House

तेजस्वी सूर्या
कर्नाटक की दक्षिण बेंगलूरू सीट से बीजेपी के उम्मीदवार तेजस्वी सूर्या हैं. ये सीट 1991 से बीजेपी का गढ़ रही है. 1996 से इस सीट का प्रतिनिधित्व करते आ रहे पार्टी के वरिष्ठ नेता अनंतकुमार के कुछ माह पहले निधन से बीजेपी को तगड़ा झटका लगा था. इस सीट से कांग्रेस ने बीके हरिप्रसाद को मैदान में उतारा है.

दयानिधि मारन चुनावी
सबकी नजरें तमिलनाडु की चेन्नई सेंट्रल सीट पर टिकी हुई हैं. यहां से यूपीए उम्मीदवार दयानिधि मारन चुनावी दावा ठोक रहे हैं. यहां उन्हें टक्कर देने के लिए पट्टाली मक्कल काची के नेता सैम पॉल चुनावी मैदान में हैं.

DAYANIDHI

लोकसभा चुनाव के दूसरे चरण का प्रचार मंगलवार को समाप्त हो गया. चुनाव आयोग की पूर्व घोषित शेड्यूल के अनुसार 13 राज्य की 97 लोकसभा सीटों पर मतदान होना निर्धारित था.

इनमें से तमिलनाडु की वेल्लोर लोकसभा सीट पर मतदान फिलहाल रद्द हो चुका है, जबकि त्रिपुरा की लोकसभा सीट त्रिपुरा पूर्व पर 18 अप्रैल को होने वाले मतदान की तिथि आगे बढ़ा दी गई है. अब 12 राज्यों की 95 सीटों पर गुरुवार को मतदान होंगे.


https://udaipurkiran.in/hindi

The post #LOKSABHA2019: इन दिग्गजों की किस्मत का फैसला होगा EVM में कैद.. appeared first on DAINIK PUKAR. Dainik Pukar

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

*