कोलकाता और दिल्ली-एनसीआर घरों की ब्रिकी गिरी, बेंगलुरु, चेन्नई, हैदराबाद, मुंबई महानगर में बढ़ी

नई दिल्ली (New Delhi) . डेटा एनालिटिक्स कंपनी के अनुसार इस साल जनवरी-अगस्त के दौरान दिल्ली-एनसीआर के संपत्ति बाजार में घरों की बिक्री 22 प्रतिशत गिरकर 16,846 इकाई रह गई. लेकिन नई आपूर्ति 42 प्रतिशत बढ़कर 17,615 इकाई पर पहुंच गई.रिपोर्ट में कहा कि शीर्ष सात शहरों में घरों की बिक्री जनवरी-अगस्त, 2021 में 17 प्रतिशत बढ़कर 1,99,243 इकाई रही. एक साल पहले समान अवधि में यह आंकड़ा 1,65,308 इकाई का रहा था.

हालांकि, समीक्षाधीन अवधि के दौरान सात शहरों में नई पेशकश, जनवरी-अगस्त 2020 की 1,58,102 इकाइयों की तुलना में दो प्रतिशत गिरकर 1,54,246 इकाई हो गई. रिपोर्ट के अनुसार, “बेंगलुरु (Bangalore) , चेन्नई (Chennai), हैदराबाद, मुंबई (Mumbai) महानगर क्षेत्र (एमएमआर) और पुणे (Pune) में इस अवधि के दौरान घरों की बिक्री में क्रमशः 11 प्रतिशत, 27 प्रतिशत, 35 प्रतिशत, 20 प्रतिशत और 22 प्रतिशत की वृद्धि देखी गई. केवल कोलकाता (Kolkata) और दिल्ली-एनसीआर में बिक्री में क्रमश: 11 प्रतिशत और 22 प्रतिशत की कमी दर्ज की गई.”

पिछले कुछ महीनों में, खासकर जून के बाद से घरों की बिक्री में सुधार हुआ है. उन्होंने कहा, “यह चलन 2021 में जारी रहेगा क्योंकि त्यौहारी सीजन शुरू होन वाला है, जो परंपरागत रूप से पूरे भारत में घर खरीदने का सबसे अच्छा समय रहता है. भारत में कोरोना वैक्सीनेशन अभियान में भी तेजी आने से हमें अक्टूबर में एक अरब खुराक का आंकड़ा पार करने की उम्मीद है. इससे बाजार की धारणा में और सुधार होगा. सभी शहरों में हैदराबाद में जनवरी-अगस्त 2021 के दौरान कुल बिक्री सबसे ज्यादा 35 प्रतिशत बढ़कर 25,716 इकाई हो गई, जो एक साल पहले की अवधि में 16,645 इकाई थी.

Check Also

आयकर विभाग ने 18 अक्टूबर तक करदाताओं को रिफंड किए 92,961 करोड़ रुपए

नई दिल्ली (New Delhi) . देश के आयकर महकमें ने चालू वित्त वर्ष (2021-22) में …