कर्नाटक भाजपा ने की अपनी पार्टी के नेता की गिरफ्तारी पर सरकार की आलोचना

Photo of author

बेंगलुरु, 11 मई . कर्नाटक भाजपा ने सेक्स स्कैंडल वीडियो मामले में अपने नेता देवराजे गौड़ा की गिरफ्तारी पर राज्य सरकार की आलोचना की है.

जेडीएस सांसद और लोकसभा उम्मीदवार प्रज्वल रेवन्ना से जुड़े सेक्स स्कैंडल वीडियो मामले में गौड़ा को शुक्रवार को चित्रदुर्ग जिले में गिरफ्तार किया गया.

पुलिस ने बताया कि उन्हें यौन उत्पीड़न और जातिगत दुर्व्यवहार के आरोप में गिरफ्तार किया गया है.

नेता प्रतिपक्ष (एलओपी) आर. अशोक ने कहा कि बीजेपी नेता देवराजे गौड़ा की गिरफ्तारी उचित नहीं है और अगर चीजें इसी तरह जारी रहीं तो उनकी पार्टी सरकार के खिलाफ प्रदर्शन करेगी.

अशोक ने कहा,“मुख्यमंत्री सिद्धारमैया और उपमुख्यमंत्री शिवकुमार का ध्यान सिर्फ सेक्स वीडियो स्कैंडल मामले पर है. उन्हें किसानों और राज्य के अन्य मुद्दों की परवाह नहीं है.”

प्रज्वल रेवन्ना के पिता एच.डी.रेवन्ना को सेक्स स्कैंडल मामले की एक पीड़िता के अपहरण के आरोप में गिरफ्तार कर जेल भेज दिया गया है.

देवराजे गौड़ा ने प्रेस कॉन्फ्रेंस आयोजित कर आरोप लगाया था कि प्रज्वल रेवन्ना के वीडियो वाले हजारों पेन ड्राइव के प्रसार के पीछे उपमुख्यमंत्री शिवकुमार का हाथ है.

गौड़ा ने यह भी आरोप लगाया था कि मुख्यमंत्री और उपमुख्यमंत्री के खिलाफ बयान न देने के लिए कांग्रेस ने उन्हें कैबिनेट मंत्री पद की पेशकश की थी.

उन्होंने कांग्रेस नेता एल. शिवराम गौड़ा द्वारा उन्हें विशेष जांच दल (एसआईटी) के समक्ष शिवकुमार का नाम न लेने के लिए मजबूर करने का एक ऑडियो क्लिप भी जारी किया था.

देवराजे गौड़ा ने दावा किया है कि वह केंद्रीय जांच ब्यूरो (सीबीआई) को सबूत सौंपेंगे.

/