झारखंड विधानसभा में राज्यपाल के अभिभाषण के दौरान झामुमो-कांग्रेस विधायकों ने लगाए हाय-हाय के नारे – indias.news

रांची, 5 फरवरी . झारखंड विधानसभा में सोमवार को मुख्यमंत्री चंपई सोरेन सरकार के फ्लोर टेस्ट के पहले राज्यपाल के अभिभाषण के दौरान कांग्रेस और झामुमो के विधायकों ने हेमंत सोरेन के समर्थन में लगातार नारेबाजी की.

सदस्यों ने हेमंत सोरेन की सरकार को अपदस्थ किए जाने पर विरोध जताते हुए हाय-हाय के नारे लगाए.

अभिभाषण शुरू होने के पहले कांग्रेस के विधायक प्रदीप यादव अपने आसान पर खड़े हो गए और आरोप लगाया कि झारखंड में जनता की चुनी हुई सरकार को केंद्र सरकार के इशारे पर अपदस्थ किया गया है.

नारेबाजी के बीच राज्यपाल लगभग 35 मिनट तक अभिभाषण पढ़ते रहे. इस दौरान झामुमो-कांग्रेस के सदस्यों ने हेमंत सोरेन को वापस लाओ, ईडी केस वापस लो, जय झारखंड, शिबू सोरेन जिंदाबाद, हेमंत सोरेन जिंदबाद, जेल का फाटक टूटेगा, हेमंत सोरेन छूटेगा के नारे गूंजते रहे.

इस दौरान सदन में मौजूद हेमंत सोरेन भी नारेबाजी कर सदस्यों के समर्थन में अपनी सीट पर खड़े रहे.

राज्यपाल ने कहा कि हमारी सरकार झारखंड के लोगों को एक स्वच्छ और साफ सुथरी सरकार देने को वचनबद्ध है. पिछले चार सालों में विधि व्यवस्था और लॉ एंड ऑर्डर में सुधार हुआ है. हमारा राज्य क्षेत्र में विकास के नये आयाम तय कर रहा है. भ्रष्टाचार के खिलाफ सरकार ने सख्त कदम उठाए हैं.

इसके अलावा उन्होंने सरकार द्वारा शिक्षा, रोजगार, पर्यटन, उद्योग सहित विभिन्न क्षेत्रों में किए गए कार्यों और उपलब्धियों का उल्लेख किया. अभिभाषण पर झामुमो-कांग्रेस सदस्यों की नारेबाजी पर राज्यपाल मुस्कुराते रहे.

एसएनसी/