जेफ बेजोस ने एलन मस्क को फिर पछाड़ा, मुकेश अंबानी भी एक स्थान फिसले

नई दिल्ली (New Delhi) . दुनिया की शीर्ष और अमेरिका की ई-कॉमर्स कंपनी ऐमजॉन के मालिक जेफ बेजोस एक बार फिर दुनिया के सबसे बड़े धनाढ्य लोगों में शामिल हो गए हैं. वह इलेक्ट्रिक कार कंपनी टेस्ला और स्पेसएक्स के सीईओ एलन मस्क को पछाड़कर इस मुकाम पर पहुंचे हैं. इस साल मस्क दो बार बेजोस को पछाड़कर नंबर वन बन चुके हैं. ब्लूमबर्ग बिलेनियरर्स सूची के मुताबिक बेजोस 186 अरब डॉलर (Dollar) की नेटवर्थ के साथ दुनिया के अमीरों की सूची में पहले स्थान पर हैं. मस्क की कंपनी टेस्ला के शेयरों में सोमवार (Monday) को 8.55 फीसदी की गिरावट आई. इससे एलन मस्क की नेटवर्थ में एक दिन में 15.2 अरब डॉलर (Dollar) की कमी आई और वह 183 अरब डॉलर (Dollar) नेटवर्थ के साथ दूसरे नंबर पर आ गए.

भारत के सबसे अमीर शख्स और रिलायंस इंडस्ट्रीज के चेयरमैन मुकेश अंबानी इस सूची में एक स्थान फिसलकर 12वें स्थान पर आ गए हैं. उनकी नेटवर्थ 78.3 अरब डॉलर (Dollar) है. इस साल उनकी नेटवर्थ में 1.55 अरब डॉलर (Dollar) का इजाफा हुआ है. इस लिस्ट में जगह पाने वाले भारतीयों में अडानी ग्रुप के चेयरमैन गौतम अडानी 27वें स्थान पर हैं. उनकी नेटवर्थ 44.9 अरब डॉलर (Dollar) है. इस साल उनकी नेटवर्थ में 11.1 अरब डॉलर (Dollar) का इजाफा हुआ है. यानी इस साल अब तक अडानी ने मुकेश अंबानी से ज्यादा दौलत कमाई है.

माइक्रोसॉफ्ट के को-फाउंडर बिल गेट्स (135 अरब डॉलर (Dollar)) तीसरे नंबर पर हैं. फ्रांसीसी बिजनसमैन और दुनिया की सबसे बड़ी लग्जरी गुड्स कंपनी एलवीएमएच मोईट हैनसी के चेयरमैन ऑफ चीफ एग्जीक्यूटिव बर्नार्ड आरनॉल्ट (118 अरब डॉलर (Dollar)) इस लिस्ट में चौथे स्थान पर हैं. अमेरिकन मीडिया (Media) के दिग्गज और फेसबुक के सीईओ मार्क जकरबर्ग 98.9 अरब डॉलर (Dollar) की वेल्थ के साथ पांचवें स्थान पर हैं. अमेरिकी कम्प्यूटर साइंटिस्ट और इंटरनेट उद्यमी लैरी पेज 94.9 अरब डॉलर (Dollar) के साथ छठे, जाने माने निवेशक वारेन बफे 93.0 अरब डॉलर (Dollar) की नेटवर्थ से साथ सातवें, गूगल के को-फाउंडर सर्गेई बिन 91.0 अरब डॉलर (Dollar) के साथ आठवें, चीन की बिजनसमैन झोंग शैनशैन 89.5 अरब डॉलर (Dollar) की नेटवर्थ के साथ नौवें और अमेरिकी बिजनसमैन और निवेशक स्टीव बाल्मर 87.6 अरब डॉलर (Dollar) दसवें स्थान पर हैं.
विपिन/ / 23 फरवरी 2021

Check Also

म्यांमा की सैन्य सरकार पर प्रतिबंध लगाने के लिए बढ़ रहा वैश्विक दबाव

बैंकाक . म्यांमा में एक फरवरी को हुए सैन्य तख्तापलट के विरोध में बढ़ते जनाक्रोश …