JEE Main सेशन 1 का रिजल्‍ट जारी: BTech कोर्सेज के लिए जारी हुए स्‍कोरकार्ड, डायरेक्‍ट लिंक से करें चेक – indias.news

नेशनल टेस्टिंग एजेंसी (NTA) ने JEE Mains सेशन 1 एग्जाम का रिजल्ट डिक्लेयर कर दिया है. ये एग्जाम 24 जनवरी से 1 फरवरी के बीच कंडक्ट किया गया था. JEE Mains स्कोर की मदद से देश के इंजीनियरिंग कॉलेजों में BE और BTech और BArch कोर्सेज में एडमिशन के लिए अप्लाय कर सकते हैं. NTA ने अभी BTech कोर्सेज के लिए कैंडिडेट्स के स्‍कोरकार्ड जारी किए हैं.

 

JEE Mains सेशन 2 एग्जाम होने के बाद ही ऑल इंडिया रैंक जारी किए जाएंगे. ये एग्जाम 4 से 15 अप्रैल के बीच होगा. अब तक NTA ने सिर्फ पेपर 2 यानी आर्किटेक्चर कोर्सेज के लिए होने वाले एग्जाम की फाइनल आंसर की जारी की है. हालांकि, इंजीनियरिंग यानी BE के लिए हुए एग्जाम का रिजल्ट पहले घोषित किया गया है.

JEE Main सेशन 1 रिजल्‍ट चेक करने का डायरेक्‍ट लिंक

इस साल 11 लाख से ज्यादा स्टूडेंट्स ने दिया JEE Mains
JEE Mains सेशन 1 पेपर 1 BE और B Arch एग्जाम के लिए देशभर के कुल 12,31,874 स्टूडेंट्स ने रजिस्टर किया था. इनमें से 11,70,036 स्टूडेंट्स ने एग्जाम दिया था. इसका मतलब करीब 95.8% स्टूडेंट्स ने एग्जाम दिया.

एक ही परसेंटाइल पर AIR में होगा 13,000 से 14,000 तक का अंतर
2023 में JEE Mains एग्जाम के दोनों में 11,60,000 स्टूडेंट्स ने रजिस्ट्रेशन किया था और 11,13,000 स्टूडेंट्स ने एग्जाम दिया था. इस वजह से 2023 में एक परसेंटाइल पर 11,300 रैंक तक का अंतर रहा. पिछले सालों की तुलना में इस साल ज्यादा एप्लिकेंट्स होने की वजह से हर परसेंटाइल स्कोर पर 2000 से 3000 ज्यादा बच्चे हो सकते हैं. इसका मतलब है कि लगभग एक जैसे परसेंटाइल स्कोर पर ऑल इंडिया रैंक (AIR) में 13,000 से 14,000 तक का अंतर आ सकता है.

पिछले 5 सालों से JEE Mains के पहले सेशन के एग्जाम के लिए हर साल करीब 9,29,000 स्टूडेंट्स रजिस्टर कर रहे हैं. ऐसे में एक ही परसेंटाइल स्कोर पर करीब 13000 से 14000 स्टूडेंट्स तक हो सकते हैं. ऐसे में एक ही परसेंटाइल स्कोर पर डेसिमल के बाद के अलग-अलग डिजिट्स के आधार पर इन स्टूडेंट्स की रैंकिंग तय की जाएगी.