कार्मिकों को RGHS में 20 अक्टूबर तक अनिवार्यतः रजिस्ट्रेशन करवाने केे निर्देश

उदयपुर (Udaipur). जिले के सभी कार्मिकों को कैशलेस आउटडोर चिकित्सा सुविधा का लाभ प्राप्त करने के लिए आरजीएचएस में 20 अक्टूबर तक रजिस्ट्रेशन करवाने के निर्देश दिए हैं. भी शुभारम्भ कर दिया जाएगा.

राज्य बीमा एवं प्रावधायी निधि विभाग की ओर से इस संबंध में समस्त आहरण एवं वित्तरण अधिकारियों को निर्देश दिये है कि वे अधीन कार्यरत समस्त कर्मचारियों का आरजीएचएस में 20 अक्टूबर तक तक अनिवार्य रूप से रजिस्ट्रेशन करवाए व कार्ड की प्रति माह अक्टूबर के वेतन बिल के साथ ऑनलाइन अपलोड करवाए. कार्ड की प्रति के अभाव में माह अक्टूबर के वेतन बिल आक्षेपित किये जाएंगे जिसकी समस्त जिम्मेदारी उनकी होगी.

राज्य बीमा एवं प्रावधायी निधि विभाग के संयुक्त निदेशक ने बताया कि आरजीएचएस के अन्तर्गत समस्त राजकीय एवं अनुमोदित निजी चिकित्सालयों में कैशलेस चिकित्सा लाभ प्राप्त किये जाने हेतु पात्र के का योजना में पंजीकरण होना आवश्यक हैं. बिना योजना में पंजीकरण किये योजना के लाभ प्राप्त नहीं होगें.

यह योजना 1 अप्रेल 2004 से पूर्व के राज्यकर्मियों पर अनिवार्य रूप से लागू है एवं 1 अप्रेल 2004 व उसके के बाद नियुक्त कार्मिकों पर अंशदान कटौती वैकल्पिक होने के बावजूद भी राजमेडिक्लेम योजना का लाभ आरजीएचएस के माध्यम से ही कैशलेस दिये जाने के कारण उनका पंजीकरण भी आरजीएचएस के अन्तर्गत करवाया जाना अनिवार्य है.

आरजीएचएस में पंजीकरण की प्रक्रिया 10 अप्रेल 2021 से प्रारम्भ हो गयी थी, परन्तु राज्य सरकार (State government) द्वारा समय पर जारी निर्देशों, आदेशों एवं अधिसूचनाओं के बावजूद भी अधिकांश राज्यकर्मियों द्वारा अपना पंजीकरण आरजीएचएस में नहीं करवाया गया है. ऐसे कार्मिक जिन््होनें आरजीएचएस में अपना पंजीकरण नहीं करवाया हैे उनको 1 नवंबर 2021 से किसी भी प्रकार का स्वास्थ्य परिलाभ आरजीएचएस में दिया जाना संभव नहीं होगा.

Check Also

फंदे से लटकी मिली विवाहिता, पीहर पक्ष ने प्रताडि़त करने का लगाया आरोप

उदयपुर (Udaipur). निठाउवा पुलिस (Police) थाना क्षेत्र के देवपुरा गांव में 28 वर्षीय विवाहिता घर …