पायलट की बगावत के बीच गहलोत के करीबियों पर आईटी छापे, आरंभिक जांच में कई खुलासे · Indias News

पायलट की बगावत के बीच गहलोत के करीबियों पर आईटी छापे, आरंभिक जांच में कई खुलासे


जयपुर (jaipur). राजस्थान (Rajasthan) में अशोक गेहलोत सरकार (Government) अपने ही उपमुख्यमंत्री (Chief Minister) सचिन पायलट की बगावत से परेशान है वहीं दूसरी ओर गहलोत के करीबियों पर आयकर विभाग ने भी शिकंजा कसना शुरू कर दिया है. गहलोत के करीबियों पर जयपुर (jaipur) से दिल्ली और मुंबई (Mumbai) तक आयकर विभाग ने छापामार कार्रवाई की है, जिसमें बड़े पैमाने पर काली कमाई का खुलासा हुआ है.13 जुलाई को जब जयपुर (jaipur) में अशोक गहलोत (Ashok Gehlot) सीएम आवास में विधायकों का समर्थन जुटा रहे थे और सरकार (Government) बचाने की कोशिश में लगे थे, उसी दौरान आयकर विभाग की टीम उनके करीबियों के यहां रेड कर रही थी. जयपुर (jaipur) से लेकर दिल्ली और मुंबई (Mumbai) में आयकर विभाग की टीम ने छापेमारी की. जयपुर (jaipur) में 20, कोटा में 6, दिल्ली में 8 और मुंबई (Mumbai) में 9 ठिकानों पर छापे मारे गए.

सीबीडीटी मुख्यालय से मिली जानकारी के मुताबिक, 3 कारोबारी समूहों के 33 ठिकानों पर ये छापेमारी की गई है. इस दौरान टीम को जो जाली दस्तावेज, डायरी और डिजिटल डाटा मिला है, उसमें अहम खुलासे हुए हैं. बड़े पैमाने पर काली कमाई के उजागर होने की जानकारी सामने आई है. प्रापर्टी में निवेश, नकद धन, बुलियन ट्रेडिंग के सबूत मिले हैं. टीम को अवैध निवेश के सबूत भी मिले हैं. बताया जा रहा है कि जिन कारोबारी ग्रुप पर ये रेड की गई है उनका बिजनेस होटल, हाइड्रो पॉवर, मेटल, ऑटो सेक्टर, सिल्वर ज्वेलरी, एंटीक उत्पाद समेत कई अन्य सेक्टर के बिजनेस में है. ब्रिटेन से लेकर अमेरिका समेत कई देशों में इन कंपनियों का कारोबार चल रहा है.

आयकर विभाग की टीम को प्रारंभिक जांच में लॉकर, ज्वेलरी और नकदी मिली है. रेड में जब्त किए गए दस्तावेजों व अन्य सबूतों के आधार पर आयकर विभाग की टीम आगे की जांच कर रही है. गौरतलब है कि 13 जुलाई को अशोक गहलोत (Ashok Gehlot) के करीबी कहे जाने वाले राजीव अरोड़ा धर्मेंद्र राठौड़ के ठिकानों पर की गई है. राजीव अरोड़ा ज्वेलरी फर्म के मालिक हैं. इनके अलावा ओम मेटल्स के एमडी सुनील कोठारी के ठिकानों पर भी रेड की गई है. कोठारी गहलोत के करीबी बताए जाते हैं. वहीं, दूसरी तरफ अशोक गहलोत (Ashok Gehlot) के बेटे वैभव गहलोत के बिजनेस पार्टनर रविकांत शर्मा के यहां ईडी ने रेड की और उनसे पूछताछ की. कांग्रेस ने रेड के बहाने बीजेपी पर गहलोत सरकार (Government) को अस्थिर करने का आरोप लगाया है तो बीजेपी ने इसे सामान्य प्रक्रिया बताया है.

Check Also

घोल कलयुग : 23 साल के पिता पर 6 साल की बेटी से रेप का आरोप, आरोपी की पत्नी रहती है मायके में

शिमला (Shimla). हिमाचल प्रदेश (Himachal Pradesh) की राजधानी शिमला (Shimla) में छह साल की बच्ची …