ब्रिटेन जाने पर भारतीयों को नहीं रहना होगा क्वारंटीन

लंदन . भारत से कोविशील्ड वैक्सीन लगवाकर ब्रिटेन जाने वाले यात्रियों (Passengers) को अब क्वारंटीन नहीं होना पड़ेगा. भारत सरकार के सख्त रवैये के बाद बैकफुट पर आए ब्रिटेन ने बड़ा ऐलान किया है. ब्रिटिश सरकार ने बताया है कि 11 अक्टूबर से कोविशील्ड या यूके में मंजूरी पाए किसी अन्य वैक्सीन को लगवाने वाले भारतीय यात्रियों (Passengers) को क्वारंटीन नहीं किया जाएगा. अक्टूबर के शुरुआत में ही भारत ने भी जैसे को तैसा वाला नियम लागू करते हुए ब्रिटिश नागरिकों को भी अनिवार्य क्वारंटीन होने का फरमान सुनाया था. भारत में ब्रिटिश उच्चायुक्त एलेक्स एलिस ने ट्वीट कर कहा कि कोविशील्ड या यूके सरकार से अनुमोदित किसी अन्य वैक्सीन की पूरी डोज लिए भारतीय यात्रियों (Passengers) को क्वारंटीन नहीं किया जाएगा. यह आदेश 11 अक्टूबर से यूनाइटेड किंगडम जाने वाले भारतीय यात्रियों (Passengers) पर लागू होगा. भारत की सख्त चेतावनी के बाद सितंबर में ब्रिटेन ने कोविशील्ड को मान्यता तो दे दी थी, लेकिन इसमें एक पेंच फंसा दिया था. भारत अब तक ब्रिटेन के एंबर लिस्ट में था, ऐसे में वैक्सीन लगवाने के बाद भी ब्रिटेन जाने वाले भारतीय नागरिकों को क्वारंटीन रहना पड़ता था. भारत सरकार ने ब्रिटेन के इस रवैये को लेकर कई बार सार्वजनिक तौर पर नाराजगी जताई थी.

भारत सरकार ने ब्रिटेन के अड़ियल रवैये को देखते हुए सख्‍त रुख अपनाया था. अक्टूबर की शुरूआत में भारत सरकार ने ब्रितानी नागरिकों को भारत आने पर 10 दिन अनिवार्य रूप से क्‍वारंटीन रहने का हुक्म सुनाया था. फिर चाहे उनके वैक्‍सीनेशन का स्‍टेटस कुछ भी हो. भारत के नए नियम चार अक्टूबर से लागू भी हो गए थे. ब्रिटिश नागरिकों के लिए यात्रा से पहले 72 घंटे के भीतर प्री-डिपार्चर कोविड-19 (Covid-19) आरटी-पीआरसी टेस्‍ट जरूरी किया गया था. एयरपोर्ट आगमन पर उनका कोविड-19 (Covid-19) आरटी-पीसीआर टेस्‍ट भी होगा. फिर आगमन के 8 दिन बाद दोबारा कोविड-19 (Covid-19) आरटी-पीसीआर टेस्ट होगा. ब्रिटेन ने अपने यहां आने वाले सिर्फ उन्‍हीं लोगों को क्‍वारंटीन से छूट दी थी जिन्‍होंने यूके, अमेरिका और यूरोप में वैक्‍सीन लगवाई है. अन्‍य देशों के लोगों को ब्रिटेन पहुंचने पर क्‍वारंटीन में रहना पड़ता है. फिर भले उनका वैक्‍सीनेशन हो चुका है. यही नहीं, कई बार आरटी-पीसीआर भी कराना पड़ता है. अभी ब्रिटेन पहुंचने वाले भारतीयों को 10 दिन क्‍वारंटीन में रहना पड़ता है. चाहे यहां उनका पूरा वैक्‍सीनेशन हो गया हो. ब्रिटेन के लिए फ्लाइट पकड़ने से तीन दिन पहले ही कोविड-19 (Covid-19) टेस्‍ट कराना अनिवार्य है.

Check Also

गृह मंत्री शाह ने 100 करोड़ टीकाकरण का श्रेय पीएम मोदी को दिया, देशवासियों को दी बधाई

नई दिल्ली (New Delhi) . देश में कोरोना महामारी (Epidemic) से निजात दिलाने के लिए …