वल्लभनगर उपचुनाव : क्षेत्र में 10 लाख से अधिक की नकदी जब्ती का मामला, देरी से सूचना देने पर SDM सहित 4 अधिकारियों को थमाया नोटिस

उदयपुर (Udaipur). वल्लभनगर विधानसभा उपचुनाव 2021 के दौरान सोमवार (Monday) को निर्वाचन अनुभाग की ओर से गठित उडनदस्ता दल की ओर से जांच कार्यवाही के दौरान 10 लाख रुपये से अधिक की नकदी जब्त की गई. इसकी सूचना जिला निर्वाचन कार्यालय एवं संबंधित प्रकोष्ठ को समय पर नहीं देने के मामाले को जिला निर्वाचन अधिकारी (कलक्टर) चेतन देवड़ा ने गंभीरता से लिया और इसे निर्वाचन जैसे महत्वपूर्ण कार्य में घोर लापरवाही मानते हुए वल्लभनगर एसडीएम सहित 4 अधिकारियों को कारण बताओ नोटिस जारी किया है.

कलक्टर देवड़ा ने बताया कि वल्लभनगर उपखण्ड अधिकारी एवं रिटर्निंग अधिकारी श्रवण सिंह राठौड़ एवं सहायक वाणिज्यिक कर अधिकारी एवं कार्यपालक मजिस्ट्रेट व उडनदस्ता दल 5 के प्रभारी विनीत शर्मा द्वारा इस कार्यवाही की सूचना तत्काल जिला निर्वाचन अधिकारी, उप जिला निर्वाचन अधिकारी, एवं प्रभारी अधिकारी जिला निर्वाचन व्यय अनुविक्षण प्रकोष्ठ व कट्रोल रूम में नहीं दी गई. अत्यधिक विलम्ब से सूचना प्राप्त होने पर इस राशि के सीजर कार्यवाही में बहुत समय लगा एवं आगामी पारी में नियुक्त दल कार्मिकों को रात भर भीण्डर थाने में निगरानी हेतु रहना पड़ा.

इसी प्रकार, निर्वाचन क्षेत्र में गठित उड़नदस्ता दल 1 के दल प्रभारी, कार्यपालक मजिस्ट्रेट एवं निर्माण विभाग के अधीक्षण अभियंता भरत प्रकाश को 11 अक्टूबर को प्रथम पारी ड्यूटी सुबह 6 बजे से दोपहर 2 बजे के दौरान मुख्य निर्वाचन अधिकारी राजस्थान, जयपुर (jaipur)के कार्यलय से दूरभाष पर सूचना प्राप्त किये जाने पर ड्युटी के दौरान लोकेशन, दल द्वारा जांच किये गये वाहनों की संख्या तथा जब्ती रिपोर्ट आदि के सम्बन्ध में कोई भी सूचना वाट्सअप ग्रुप में प्रेषित नहीं करने एवं दूरभाष पर वार्ता करने पर नकारात्मक रवैया प्रतीत होने के कारण नोटिस जारी किया है.

इसके साथ ही उड़नदस्ता दल 2 के दल प्रभारी, कार्यपालक मजिस्ट्रेट एवं निर्माण विभाग के अधीक्षण अभियंता भानु प्रकाश दहिमा को रात्रि कालीन ड्युटी के तहत रात्रि लगभग 1 बजे मुख्य निर्वाचन अधिकारी राजस्थान, जयपुर (jaipur)के कार्यालय से दूरभाष सत्यापन के दौरान उपस्थित नहीं रहने के कारण नोटिस जारी किया.

कलक्टर ने बताया कि इस सभी अधिकारियों का काय्र विधानसभा उप चुनाव 2021 में विहित कर्तव्य के निर्वहन में पूर्णतः असफल रहने एवं निर्वाचन जैसे महत्वपूर्ण कार्य में घोर लापरवाही बरतने का परिचायक है. जिसे गुख्य निर्वाचन अधिकारी राजस्थान, जयपुर (jaipur)द्वारा भी गंभीरता से लिया है. इस पर जिला निर्वाचन अधिकारी ने संबंधित अधिकारियों को नोटिस जारी कर 14 अक्टूबर तक स्पष्टीकरण प्रस्तुत करने के निर्देश दिए है, जिसमें असफल रहने एवं असंतोषप्रद जवाब की दशा में इनके विरुद्ध निर्वाचन नियमों एवं सीसीए नियमों के अन्तर्गत कार्यवाही अमल में ली जाएगी.

गौरतलब है कि विधानसभा उप चुनाव 2021 में वल्लभनगर विधानसभा क्षेत्र-155 के लिए गठित उड़नदस्ता दल संख्या-5 द्वारा 11 अक्टूबर को द्वितीय पारी (दोपहर 2.00 बजे से रात्रि 10.00 बजे) ड्युटी के दौरान दल द्वारा लगभग सांय 5.00 बजे राशि 10,82,500 जब्त की गई थी.

Check Also

ईशा अंबानी अमेरिका के स्मिथसोनियन नेशनल म्यूजियम ऑफ एशियन आर्ट के बोर्ड में शामिल

नई दिल्ली (New Delhi) . भारतीय शीर्ष उद्यमी मुकेश अंबानी की बेटी ईशा आंबानी के …