कई देशों में फिर कोरोना का कहर तेज, टीकाकरण की और बढ़ानी होगी गति


नई दिल्‍ली . महामारी (Epidemic) कोरोना के घातक वायरस से निजात दिलाने के लिए टीके ईजाद होने के बाद अब दुनिया के कई देशों में इसके संक्रमण ने फिर कहर बरपाना शुरू कर दिया है. भारत में कुछ दिनों पहले जहां कोरोना संक्रमण के दैनिक पुष्ट मामले 10 हजार से नीचे जाने लगे थे, अब एक बार फिर तेजी से बढ़ने लगे हैं. कोरोना (Corona virus) के नए स्ट्रेन भी सामने आए हैं जो पहले वाले से ज्यादा संक्रामक माने जा रहे हैं. महाराष्ट्र (Maharashtra) समेत देश के छह राज्य सर्वाधिक प्रभावित हैं.

लोगों से एहतियात बरतने की अपील की जा रही है. पिछले साल के मध्य में कोरोना संक्रमण के मामलों में तेजी से इजाफा होने लगा था. हालांकि, पीक पर पहुंचने के बाद कोरोना के मामले अक्टूबर माह से कम होने लगे थे. अब एक बार फिर कोरोना संक्रमण के मामलों में तेजी से इजाफा होने लगा है. दुनियाभर में संक्रमितों की संख्या 11 करोड़ से ज्यादा हो गई है. यहां गौर करने वाली बात यह है कि कोरोना संक्रमितों की संख्या दो से चार करोड़ होने में दो महीने लगे थे, जबकि आठ से दस करोड़ होने में महज एक महीना लगा.

जिन देशों में टीकाकरण चल रहा है, वहां या तो स्थानीय स्तर पर स्वीकृति प्राप्त वैक्सीन का इस्तेमाल किया जा रहा है या यूरोपीय यूनियन व विश्व स्वास्थ्य संगठन (World Health Organization) (डब्ल्यूएचओ) जैसे देशों के समूह से मान्यता प्राप्त वैक्सीन का प्रयोग हो रहा है. 101 देश ऐसे हैं जो टीकाकरण के साथ उसके आंकड़े भी साझा कर रहे हैं. इनमें 60 उच्च आय वाले हैं, जबकि 41 निम्न आय वाले. अमेरिका में जहां 6.8 करोड़ से ज्यादा खुराकें दी जा चुकी हैं, वहीं चीन में 4.1 करोड़ टीके लगाए जा चुके हैं. ब्रिटेन में दो करोड़ और भारत में डेढ़ करोड़ से ज्यादा खुराकें दी जा चुकी हैं. इनमें ज्यादातर पहली खुराकें हैं.

Check Also

पारस जेके हास्पिटल की लापरवाही की भेंट चढ़ा भावी वैज्ञानिक

उदयपुर (Udaipur). उदयपुर (Udaipur) में मेडिकल माफियाओं का राज है. प्रशासन मौन ताने खड़ा है. …