हिमाचल में दोगुनी रफ्तार से होगी कोरोना वायरस की जांच, प्रदेश को मिलीं 19 ट्रूलैब मशीनें, 45 मिनट में मिलेगी रिपोर्ट · Indias News

हिमाचल में दोगुनी रफ्तार से होगी कोरोना वायरस की जांच, प्रदेश को मिलीं 19 ट्रूलैब मशीनें, 45 मिनट में मिलेगी रिपोर्ट

शिमला.हिमाचल प्रदेश में कोरोना के बढ़ते मामलों को देखते हुए अब जांच में भी तेजी लाई जा रही है. केंद्र सरकार ने हिमाचल को कोरोना जांच में तेजी लाने के लिए 19 नई ट्रूलैब मशीनें दी हैं. मशीन में एकसाथ दो संपलों की जांच होगी और इसकी रिपोर्ट 45 मिनट में मिल जाएगी. अभी कोरोना संपलों को लेबोरेट्री भेजा जा रहा है, इसमें काफी समय लग रहा है. जांच की रिपोर्ट भी विभाग को सात घंटे बाद मिल रही है. इससे मरीज का इलाज शुरू करने में देरी हो रही है. इस नई मशीन को उपयोग में लाने के बाद जांच रिपोर्ट जल्दी आएगी और मरीजों का उपचार भी जल्दी शुरू हो सकेगा. इन्हें इनस्टॉल करने के बाद केंद्र प्रदेश को 14 और नई मशीनें देगा. पहले चरण में ये मशीनें प्रदेश के पांच जगहों पर इस्तेमाल में लाई जाएगी. ऊना, नाहन, मंडी, हमीरपुर और चंबा जिलों में इस मशीन में कोरोना के सेंपलों की जांच होगी. इसके बाद इसे प्रदेश के अन्य जिलों के अस्पतालों में इंस्टाल किया जाएगा. कोरोना संक्रमण का पता लगाने के लिए स्वास्थ्य विभाग हर दिन औसतन 1600 लोगों के सेंपलों की जांच कर रहा है. दावा किया जा रहा है कि ये देश में सबसे ज्यादा सैंपलों का जांच करने का आंकड़ा है. हालांकि विभाग प्रदेश में सात केंद्रों में कोरोना के सेंपलों की जांच कर रहा है, बावजूद इसके एक दिन में लिए जा रहे सभी सेंपलों की जांच हो पाना संभव नहीं हो रहा है. जांच के कार्यो में तेजी लाने के लिए इस मशीन को उपयोग में लिया गया है. इस मशीन की लागत दस लाख रुपए है. विभाग 19 मशीनों को खरीद चुका है. कोरोना सेंपलों के जांच कायों में तेजी लाने के लिए इस मशीन को खरीदा गया है ताकि मैनुअली काम को कम किया जा सके और जल्दी से लोगों में इस बीमारी का पता लगाया जा सके. केंद्र सरकार ने ये मशीनें राज्य सरकार को उपलब्ध करवाई हैं जो जिला के हर छोटे बड़े अस्पताल में रखी जाएगी.

Check Also

कोरोना संकट के बीच दिल्ली हाईकोर्ट से आप सरकार को झटका

नई दिल्ली (New Delhi). कोरोना संकट के बीच दिल्ली हाईकोर्ट ने मंगलवार (Tuesday) को आम …