हैदराबाद, 26 अक्टूबर . तेलंगाना में अगले महीने होने वाले विधानसभा चुनाव से पहले नकदी, सोना, शराब और अन्य वस्तुओं की जब्ती का आंकड़ा गुरुवार को बढ़कर 347 करोड़ रुपये पर पहुंच गया. एक अधिकारी ने यह जानकारी दी.

गुरुवार सुबह 9 बजे समाप्त 24 घंटे की अवधि के दौरान, प्रवर्तन एजेंसियों ने 6.85 करोड़ रुपये से अधिक की नकदी, सोना और शराब जब्त की. इसके साथ, 9 अक्टूबर को आदर्श आचार संहिता लागू होने के बाद से अब तक कुल जब्ती 347.16 करोड़ रुपये हो गई है, जो इतनी कम अवधि के दौरान देश में सबसे अधिक बताई जा रही है.

तेलंगाना में 2018 के चुनावों में पूरी मतदान प्रक्रिया के दौरान, नकदी और सोने की कुल जब्ती केवल 103 करोड़ रुपये थी.

इधर गुरुवार सुबह समाप्‍त 24 घंटे की अवधि के दौरान 3.17 करोड़ रुपये से ज्यादा नकद जब्त किये गये.

कुल नकदी जब्ती अब 122.62 करोड़ रुपये हो गई है.

मुख्य निर्वाचन अधिकारी कार्यालय द्वारा जारी आंकड़ों के अनुसार, 25 अक्टूबर की सुबह 9 बजे से 26 अक्टूबर की सुबह 9 बजे के बीच 15 लाख रुपये से अधिक की कीमती धातुएं जब्त की गईं.

प्रवर्तन एजेंसियों ने अब तक 230 किलोग्राम सोना, 900 किलोग्राम चांदी, हीरे और प्लैटिनम जब्त किए हैं, जिनकी कीमत 156 करोड़ रुपये से अधिक है.

अधिकारियों ने शराब पर भी कार्रवाई जारी रखी. 24 घंटे के दौरान, 1.96 करोड़ रुपये की शराब जब्त की गई, जिससे कुल जब्ती 20.70 करोड़ रुपये हो गई.

राज्य और केंद्रीय एजेंसियों ने 43 किलोग्राम गांजा भी जब्त किया है, जिससे कुल जब्ती 3,460 किलोग्राम हो गई है, जिसका मूल्य 17.18 करोड़ रुपये से अधिक है.

अधिकारियों ने 30.42 करोड़ रुपये से अधिक मूल्य का 1.56 लाख किलोग्राम चावल और अन्य सामान भी जब्त किया है.

राज्य विधानसभा की 119 सीटों के लिए चुनाव 30 नवंबर को एक ही चरण में होंगे.

एकेजे