रांची, 2 अप्रैल . झारखंड के गढ़वा विधानसभा क्षेत्र से चार बार विधायक और बिहार-झारखंड की सरकार में मंत्री रहे गिरिनाथ सिंह ठीक पांच साल बाद भाजपा छोड़कर फिर से राजद में लौट आए हैं.

उन्होंने पटना स्थित राजद कार्यालय में पार्टी की सदस्यता ग्रहण की. राजद के बिहार प्रदेश अध्यक्ष जगदानंद सिंह ने उनका स्वागत किया. माना जा रहा है कि चतरा संसदीय सीट से पार्टी उन्हें अपना उम्मीदवार बना सकती है.

गिरिनाथ सिंह लंबे समय तक झारखंड प्रदेश राजद के अघ्यक्ष रहे हैं. वह 2019 में संसदीय चुनाव के पहले राजद छोड़कर भाजपा में शामिल हुए थे. वह उस वक्त चतरा सीट से भाजपा की ओर से लोकसभा चुनाव लड़ना चाहते थे, लेकिन पार्टी ने सुनील सिंह को वहां दोबारा प्रत्याशी बनाया था. इस बार भी वह टिकट के लिए दावेदारी कर रहे थे, लेकिन निराशा हाथ लगी.

गिरिनाथ सिंह ने 30 मार्च को राजद सुप्रीमो लालू यादव से पटना में मुलाकात की थी. इसके बाद से चर्चा थी कि वो आरजेडी में वापसी करेंगे.

राजद में शामिल होने के बाद गिरिनाथ सिंह ने कहा कि वह सामाजिक न्याय की लड़ाई के लिए प्रतिबद्ध पार्टी में लौट आए हैं. यह उनके लिए घर वापसी है. राजद ने झारखंड में पलामू और चतरा सीटों पर अपने उम्मीदवार उतारने की तैयारी की है.

आरजेडी के झारखंड प्रदेश अध्यक्ष संजय यादव ने गिरिनाथ सिंह की पार्टी में वापसी करने पर खुशी जाहिर की. उन्होंने उनका पार्टी में स्वागत किया है. संजय यादव ने कहा कि गिरिनाथ सिंह की वापसी से पार्टी को मजबूती मिलेगी.

एसएनसी/एबीएम