हितों के टकराव मामले में मोहन बागान छोड़ेंगे गांगुली

मुम्बई (Mumbai) . भारतीय क्रिकेट बोर्ड (बीसीसीआई) अध्यक्ष सौरव गांगुली हितों के टकराव मामले में बचने के लिए अब इंडियन सुपर लीग फुटबॉल टीम एटीके मोहन बागान के निदेशक का पद छोड़ेंगे. एटीके मोहन बागान आरपीएसजी वेंचर्स लिमिटेड के मालिकाना अधिकार वाली फुटबॉल टीम है, जिसने आईपीएल (Indian Premier League) के लिए नई टीम खरीदी है. इसके लिए आरपी-एसजी समूह के प्रमुख संजीव गोयनका की कंपनी ने बोली लगायी थी. एक रिपोर्ट के अनुसार गांगुली ने मोहन बागान में अपनी भूमिका से हटने की प्रक्रिया भी शुरू कर दी है. बागान बोर्ड के निदेशकों में से एक होने के अलावा, गांगुली एक शेयरधारक भी हैं और बीसीसीआई अध्यक्ष होने के कारण अभी वह इस पद पर नहीं रह सकते हैं.
हितों के टकराव का मामला तब सामने आया, जब मोहन बागान के मालिक और साथ ही लखनऊ (Lucknow) आईपीएल (Indian Premier League) फ्रेंचाइजी आरपीएसजी के उपाध्यक्ष संजीव गोयनका ने कहा है कि गांगुली पद छोड़ने जा रहे हैं.

Check Also

शिवरामकृष्णन के साथ हुआ था भेदभाव

मुम्बई (Mumbai) . भारतीय क्रिकेट टीम के पूर्व स्पिनर एल शिवरामकृष्णन ने खुलासा किया है …