तालिबान का खौफ, एकमात्र स्पो‌र्ट्स चैनल भी बंद हो गया

काबुल . तालिबान की ओर से लगे प्रतिबंधों का सामना कर रहा अफगानिस्तान का एकमात्र स्पो‌र्ट्स चैनल भी बंद हो गया.रिपोर्ट में कहा गया हैं कि तालिबानी प्रतिबंधों के अलावा अफगानिस्तान की आर्थिक खस्ताहाली भी चैनल बंद होने की बड़ी वजह है. चैनल के प्रमुख ने कहा, चैनल का प्रसारण बंद करने की प्रमुख वजह मीडिया (Media) , खासकर स्पो‌र्ट्स चैनल पर लगाया गया प्रतिबंध है. मीडिया (Media) सामाजिक, आर्थिक और राजनीतिक मोर्चो पर समस्याओं का सामना कर रहा है.
अफगानिस्तान के पत्रकार अपनी ड्यूटी के दौरान कई मुश्किलों का सामना कर रहे हैं. उल्लेखनीय है कि कुछ हफ्ते पहले अफगानिस्तान के करीब 150 मीडिया (Media) हाउस बंद हो चुके हैं.इसकी प्रमुख वजह आर्थिक व राजनीतिक संकट हैं. तालिबान के अफगानिस्तान पर कब्जा करने के बाद उल जूलूल फैसले लेने का क्रम जारी है. उसके फैसलों का असर खेलों पर भी हो रहा है. वह पहले ही महिलाओं के खेलों में भाग लेने के खिलाफ है और अब उसने स्टेडियमों में महिला दर्शकों के आने के चलते अफगानिस्तान में इंडियन प्रीमियर लीग के प्रसारण पर भी प्रतिबंध लगा दिया. तालिबान ने कहा कि आईपीएल (Indian Premier League) मे इस्लाम विरोधी सामग्री का प्रदर्शन किया जाता है.इसकारण इस पर बैन है.

हाल ही में अफगानिस्तान में मीडिया (Media) की स्वतंत्रता पर कुछ और पाबंदियां लगाकर तालिबान ने पत्रकार संगठनों के लिए 11 नियमों का ऐलान किया था. इन नियमों के तहत इस्लाम के खिलाफ किसी सामग्री के प्रकाशन पर प्रतिबंध लगा दिया गया है. राष्ट्रीय हस्तियों के प्रति अपमानजनक सामग्री का प्रकाशन भी प्रतिबंधित कर दिया गया है. पत्रकारों से कहा गया है कि वे अपनी रिपोर्टो की जानकारी सरकारी मीडिया (Media) दफ्तर को दें. इतना ही नहीं तालिबान ने निजी टीवी चैनलों पर दिखाए जा रहे कंटेंट में बदलाव भी किया गया है. महत्वपूर्ण समाचार बुलेटिन, राजनीतिक बहस, मनोरंजन और संगीत कार्यक्रमों और विदेशी नाटकों को तालिबान सरकार के अनुरूप कार्यक्रमों से बदल दिया गया है.

Check Also

पाकिस्तान में कोरोना के बाद अब डेंगू ने पैर पसारे, सरकार इस खतरे की ओर से बेपरवाह

इस्‍लामाबाद . पाकिस्‍तान में कोरोना महामारी (Epidemic) के साथ-साथ डेंगू भी पांव पसार रहा है. …