किसान नेता ने जारी किया वीडियो, कहा- पुलिस गिरफ्तार करने आए तो उन्हें बंधक बना लो


नई दिल्ली (New Delhi) . किसान नेता गुरनाम सिंह चढूनी ने शुक्रवार (Friday) को सोशल मीडिया (Media) पर एक वीडियो जारी किया. वीडियो में किसान नेता ने कहा है कि लोगों को दिल्ली पुलिस (Police) को कार्रवाई से रोकने और उन्हें बंधक बनाने के लिए उकसाया है. साथ ही जिन लोगों को दिल्ली पुलिस (Police) ने नोटिस भेजे हैं, उनसे पुलिस (Police) के सामने पेश ना होने की बात कही है. चढूनी संयुक्त किसान मोर्चा की सात सदस्यीय कमेटी के सदस्य और भारतीय किसान यूनियन हरियाणा (Haryana) के अध्यक्ष हैं.

कृषि कानूनों के खिलाफ किसान पिछले 85 दिन से राष्ट्रीय राजधानी दिल्ली की सीमाओं आंदोलन कर रहे हैं. वहीं 26 जनवरी को किसान संगठनों की ओर से आयोजित ट्रैक्टर परेड के दौरान दिल्ली में जमकर हिंसा हुई थी. इस हिंसा में करीब 400 से ज्यादा पुलिस (Police)कर्मी और कुछ प्रदर्शनकारी भी घायल हुए थे. वहीं लाल किले पर तिरंगा के अपमान करने के साथ ही एक धार्मिक और एक खालिस्तानी झंडा लगा दिया गया था. इसी सिलसिले में पुलिस (Police) कार्रवाई कर रही है.

दिल्ली पुलिस (Police) की क्राइम ब्रांच आरोपियों की धर पकड़ के लिए लगातार पंजाब, हरियाणा (Haryana) समेत अन्य राज्यों में दबिश डाल रही है. वहीं इस मामले में भास्कर ने दिल्ली पुलिस (Police) क्राइम ब्रांच डीसीपी और प्रवक्ता चिन्मय बिस्वाल से बात करने की कोशिश की. लेकिन उन्होंने फोन कॉल रिसीव नहीं की.

-पंजाब-हरियाणा (Haryana) में पंचायतें ना करने की भी बात

चढूनी ने पुलिस (Police) को बंधक बनाने के वीडियो के बाद एक और वीडियो जारी किया जिसमें उन्होंने पंजाब (Punjab) और हरियाणा (Haryana) में किसान महापंचायत नहीं कराने की बात कही. चढूनी ने कहा कि पंजाब (Punjab) और हरियाणा (Haryana) में पंचायतें करने की जरूरत नहीं हैं. क्योंकि यहां के लोग पहले से ही आंदोलन में शामिल हैं. पंचायत दूसरे राज्यों में करके लोगों को आंदोलन से जोडऩा है. वहीं पंजाब (Punjab) हरियाणा (Haryana) के लोगों से अपील करते हुए कहा कि आंदोलन में दलितों को भी जोड़ा जाए और जरूरत पडऩे पर हर वक्त तैयार रहें.

Check Also

छतरपुर में शीघ्र खुलेगा मेडिकल कॉलेज : शिवराज

भोपाल (Bhopal) . मुख्यमंत्री (Chief Minister) शिवराज सिंह चौहान ने कहा है कि छतरपुर में …