कड़ी सुरक्षा के बीच 50 स्ट्रांग रूम में रखी गई हैं ईवीएम : असम सीईओ

Photo of author

गुवाहाटी, 15 मई . असम के मुख्य चुनाव अधिकारी अनुराग गोयल ने बताया कि राज्य में हाल ही में हुए लोकसभा चुनावों के लिए इस्तेमाल की गई वीवीपैट मशीनों के साथ ईवीएम को कड़ी सुरक्षा के बीच लगभग 50 स्ट्रॉन्ग रूम्स में रखा गया है.

उन्होंने को बताया कि मतदान के लिए इस्तेमाल की जाने वाली 30,310 ईवीएम (बैलट यूनिट) और 28,650 कंट्रोल यूनिटों के अलावा, इतनी ही संख्या में वीवीपैट इन स्ट्रांग रूम में कड़ी सुरक्षा के बीच रखे गये हैं.

गोयल ने कहा कि स्ट्रांग रूम के अंदर और बाहर सीसीटीवी कैमरे लगाए गए हैं जिनकी फुटेज पर सीधे जिला चुनाव अधिकारी नजर रखेंगे.

उन्होंने यह भी कहा कि स्ट्रांग रूम के पूरे क्षेत्र के आसपास प्रवेश और निकास द्वार पर भी सीसीटीवी कैमरे लगाए गए हैं. इन स्‍थानों पर दो स्तर की सुरक्षा-व्यवस्था रखी गई है.

स्ट्रांग रूम के प्रवेश द्वार और परिसर में सुरक्षा की जिम्मेदारी सीआरपीएफ को सौंपी गई है जबकि स्ट्रांग रूम के बाहर असम पुलिस के सुरक्षाकर्मियों को तैनात किया गया है.

विभिन्न प्रत्याशियों के पोलिंग एजेंट भी स्ट्रांग रूम पर कड़ी नजर रख रहे हैं.

गोयल ने स्पष्ट किया कि जिला निर्वाचन अधिकारी, सहायक निर्वाचन अधिकारी, सुरक्षा कर्मियों और राजनीतिक दलों के घोषित एजेंटों के अलावा कोई भी स्ट्रांग रूम परिसर में प्रवेश नहीं कर सकेगा.

गौरतलब है कि असम की 14 लोकसभा सीटों के उम्मीदवारों की किस्मत ईवीएम में कैद हो चुकी है. राज्य में तीन चरणों में 19 अप्रैल, 26 अप्रैल और 7 मई को चुनाव हुए थे.

एमकेएस/एकेजे