बेटे के गम में पूरे परिवार ने लगाई फांसी, सामूहिक आत्महत्या से मचा हड़कंप

सीकर . राजस्‍थान के सीकर ‎जिले में एक परिवार द्वारा फांसी लगाकर सामूहिक आत्महत्या (Murder) करने का मामला सामने आया है. इस घटना के बाद इलाके में हड़कंप मच गया. सूचना के बाद पु‎लिस मौके पर पहुंची और मामले की जांच कर रही की. जांच के दौरान पुलिस (Police) को एक “सुसाइड नोट” ‎मिला, ‎जिसे देख पु‎लिस सन्न रह गई. दरअसल, ‎जिले राधाकिशनपुरा इलाके में रहने वाले हनुमान सैनी ने रविवार (Sunday) को अपनी पत्नी तारा देवी और दो बेटियों पूजा व अन्नू के साथ फांसी लगाकर आत्महत्या (Murder) कर ली थी.

मौके पर पहुंची पुलिस (Police) ने जब जांच-पड़ताल की तो एक सुसाइड नोट ‎मिला, ‎जिसमें पूरे प‎रिवार ने अपनी भावनाएं व्यक्त की. हनुमान सैनी ने अपने सुसाइड नोट में लिखा ‎कि उनके पुत्र अमर का गत वर्ष 27 सितंबर को देहांत हो गया. बताया जा रहा कि अमर की मौत हार्ट अटैक से हुई थी. बेटे के जुदाई के गम में डूबे हनुमान सैनी ने लिखा कि हमने उसके बैगर जीने की कोशिश की, लेकिन जीया नहीं जाता था, इसलिए हमने मौत को गले लगाने का फैसला किया. अमर ही हमारी जिंदगी था. वह ही नहीं रहा तो हम यहां क्या करेंगे? उन्‍न्‍होंने आगे लिखा कि घर में किसी भी चीज की कमी नहीं है. घर, खेत, दुकान और नौकरी सब कुछ है. मगर, हमारे पास बस एक बेटे की कमी है. उसके बिना यह सब बेकार है.

हनुमान ने अपने पत्र में साफ किया कि उन पर किसी तरह का कोई कर्ज नहीं है. इसके साथ ही उन्‍होंने सुसाइड नोट में प्रशासन से आग्रह किया कि परिवार को किसी तरह से परेशान न किया जाये. हनुमान ने सुसाइड नोट के दूसरे पेज में अपने भाई सुरेश को संबोधित करते हुए लिखा कि उनका अंतिम संस्कार अपने परिवार की तरह ही करना. सभी रीति रिवाजों के साथ. इसके साथ ही उन्‍होंने बेहद मार्मिक बात लिखी. हनुमान ने कहा कि अमर का कड़ा और उसके जन्म के बाल हमारे साथ ही गंगा में बहा देना. यह सब सामान उसकी फोटो के पास रखा है. पुलिस (Police) ने शवों का पोस्टमार्टम करवाकर परिजनों को सौंप दिया है.‎ ‎

Check Also

कोलकाता में पीएम भरेंगे हुंकार तो सिलीगुड़ी में दीदी करेंगी वार

कोलकाता (Kolkata) . बंगाल में विधानसभा चुनाव (Assembly Elections) का सुपर संडे होने जा रहा …