नाटो रूसी मिशन के आठ सदस्यों को सैन्य गठबंधन से निष्कासित किया

ब्रुसेल्स . उत्तरी अटलांटिक संधि संगठन (नाटो) ने रूसी मिशन के आठ सदस्यों को सैन्य गठबंधन से निष्कासित कर कहा कि वे गुप्त रूप से खुफिया अधिकारियों के रूप में काम कर रहे थे. नाटो के अधिकारी ने कहा, हम पुष्टि कर सकते हैं कि हमारे द्वारा नाटो में रूसी मिशन के आठ सदस्यों की मान्यता वापस ले ली है, जो अघोषित रूसी खुफिया अधिकारी थे.उन्होंने कहा कि नाटो ने उन पदों की संख्या भी 20 से घटाकर 10 कर दी है, जिनके लिए रूस संगठन में लोगों को मान्यता दे सकता है. इस निर्णय के लिए कोई तत्काल स्पष्ट स्पष्टीकरण नहीं दिया गया.

यह फैसला महीने के अंत में प्रभावी होगा. वर्ष 2014 में यूक्रेन के क्रीमिया प्रायद्वीप पर मॉस्को द्वारा कब्जा करने के बाद से नाटो और रूस के बीच संबंध तेजी से तनावपूर्ण हुए हैं. अधिकारी ने कहा, रूस के प्रति नाटो की नीति लगातार आक्रामक बनी हुई है.हमारे द्वारा रूस की आक्रामक कार्रवाइयों के जवाब में अपनी रक्षा प्रणाली को मजबूत किया है, साथ ही हम एक सार्थक बातचीत के लिए तैयार हैं.बातचीत का मुख्य मंच नाटो एवं रूस परिषद की बैठक रूकी हुई है. उन्होंने कहा, ‘‘नाटो ने 18 महीने पहले नाटो-रूस परिषद की एक और बैठक आयोजित करने का प्रस्ताव रखा था, और यह प्रस्ताव अब भी कायम है. गेंद रूस के पाले में है.

Check Also

चीन ने भारत से जुड़े सीमा क्षेत्र का नया जनरल बनाया

बीजिंग . चीन की पीपुल्स लिबरेशन आर्मी (पीएलए) की वेस्टर्न थिएटर कमांड में बदलाव किया …