बगैर छिलके वाले बादाम खाना होता है ज्यादा फायदेमंद -सूखे बादाम खाने से हो सकता है नुकसान भी

नई दिल्ली (New Delhi) . क्या आपको मालूम है बादाम का सेवन भिगोकर ही क्यों किया जाता है, सूखे बादाम क्यों नहीं. बुर्जुगों का कहना है कि छिलके सहित बादाम खाना उतना फायदेमंद नहीं होता, जितना बगैर छिलके वाले बादाम खाने से होता है. इसका प्रमुख कारण है छिलकों का आपके पोषण में रूकावट पैदा करना. बादाम के छिलके में टैनीन नाम का एक तत्व मौजूद होता है जो कि इन पोषत तत्वों के अवशोषण को रोक लेता है.
अगर आप सूखे बादाम का सेवन करते हैं, तो छिलकों को निकालना संभव नहीं होता, जबकि बादाम को पानी में भिगो देने पर इससे छिलका आसानी से निकल जाता है. ऐसे में आपको बादाम का पूरा पोषण मिल पाता है, जो छिलकों के रहते नहीं मिल पाता. यही कारण है कि कच्चे यानी सूखे बादाम की जगह भीगे हुए बादाम खाना ज्यादा फायदेमंद होता है.बादाम खाने के कई फायदे हैं. सही भी है लेकिन यह सभी के लिए फायदेमंद नहीं है. कुछ ऐसे व्यक्ति हैं जिनको बादाम नहीं खाने चाहिए. इनको खाने से उनको तकलीफ हो सकती है.नुकसान की बात करें तो उच्च रक्तचाप (हाई ब्लड प्रेशर) वाले व्यक्तियों को बादाम के सेवन करने से बचना चाहिए. इसका कारण यह है कि उन्हें लगातार उच्च रक्तचाप की दवाइयाँ लेनी पड़ती हैं, जिनके चलते बादाम का सेवन उनके लिए नुकसान दायक हो सकता है. उन लोगों को भी बादाम नहीं खाने चाहिए जिन्हें किडनी में पथरी या गॉलब्लेडर की परेशानी है.यदि आपको पाचन संबंधी परेशानी है तो भूलकर भी बादाम का सेवन न करें.
बादाम में फाइबर बहुत अधिक मात्रा में होता है जो पाचन संबंधी परेशानी को बढ़ाने का काम करता है. अगर कोई व्यक्ति एंटीबायोटिक मेडिसन ले रहा हो, उस दौरान उसे भी बादाम खाना बंद कर देना चाहिए. बादाम में ज्यादा मात्रा में मैग्नीशियम होता है, जिसके सेवन से शरीर में दवाइयों का जो असर होना चाहिए, वह प्रभावित हो सकता है. जो लोग मोटापे से परेशान हैं, उन्हें भी बादाम का सेवन नहीं करना चाहिए, क्योंकि इसमें कैलोरी और वसा बहुत अधिक मात्रा में होती है, जो वजन बढ़ाने का काम करता है. यदि किसी को एसिडिटी की शिकायत रहती हो, तो उन्हें भी बादाम नहीं खाना चाहिए. एक्सपर्टस की माने तो बादाम एक लोकप्रिय सूखा मेवा है. बादाम में एंटीऑक्सीडेंट, हेल्दी फैट, विटामिन और मिनरल भरपूर मात्रा में होते हैं. प्रसिद्ध कहावत है कि कमजोर दिमाग वालों को बादाम खाने चाहिए. इसे खाने से दिमाग तेज और हड्डियां मजबूत होती है.
बादाम खाने के कई अन्य स्वास्थ्य लाभ भी हैं. कई तरह के व्यंजनों में बादाम का इस्तेमाल किया जाता है. बादाम को खाने के बारे में कहा जाता है कि बेहतरीन स्वास्थ्य लाभ के लिए भीगे हुए बादाम का खाना चाहिए. भीगे हुए बादाम कच्चे की तुलना में अधिक स्वास्थ्यवर्धक होते हैं. भीगे हुए बादाम कच्चे की तुलना में अधिक पोषक तत्व प्रदान करते हैं.अधिकांश घरों में महिलाएं अपने बच्चों को सर्दी के दिनों में भीगे हुए बादाम खाने को देती हैं.

Check Also

महिलाओं को राशि के अनुसार दें उपहार

त्योहार शुरु हो गये हैं और इसमें उपहारों का अपना ही महत्व है. वहीं महिलाओं …