नशे में महिला यात्री ने फ्लाइट में उतारी अपनी पैंटी, जबरन कुर्सी पर बैठा रस्सियों से बांधी गई

मॉस्को . नशे में इंसान शर्म हया सब कुछ खो देता है कुछ ऐसा हा बकाया रूस में घटा जब एक महिला यात्री ने फ्लाइट के दौरान ऐसी हरकतें की जिससे उसे सीट पर बैठाकर रस्सियों से बांधना पड़ा. जिसके बाद उसकी तस्वीरें अब दुनियाभर में वायरल हो रही हैं.

दरअसल, 39 साल की इस महिला ने नशे में होने के कारण फ्लाइट में ही अपना पैंटी (अंडरवियर) निकालना शुरू कर दिया. जिसके बाद दूसरे यात्रियों (Passengers) को होने वाली परेशानी, फ्लाइट की सेफ्टी और शर्मिंदगी से बचाने के लिए केबिन क्रू ने इस महिला को रस्सियों से बांध दिया था. रूसी विमान के व्लादिवोस्तोक से उड़ान भरने के 15 मिनट के अंदर ही इस महिला ने अपना ड्रामा शुरू कर दिया. पहले तो वह कॉकपिट और आसपास की गैलरियों में टहलने लगी और जब बाद में केबिन क्रू ने उसे बैठने को कहा तो वह उलझ गई. फ्लाइट स्टाफ पर चिल्लाते हुए इस महिला ने अपने कपड़े उतारने शुरू कर दिए. इतना ही नहीं, महिला ने अपना अंडरवियर तक निकाल दिया. फ्लाइट में बैठे दूसरे यात्रियों (Passengers) ने अपनी सुरक्षा और सहूलियत को देखते हुए जैसे-तैसे महिला को सीट पर बैठाने के लिए राजी किया. जैसे ही महिला सीट पर बैठी वैसे ही उसे रस्सियों, सीटबेल्ट और टेप से बांध दिया गया. जिससे दूसरे यात्रियों (Passengers) और फ्लाइट की सुरक्षा में कोई खतरा न पैदा हो जाए.

रूसी मीडिया (Media) ने बताया कि फ्लाइट के नोवोसिबिर्स्क के टोलमाचेवो हवाई अड्डे पर लैंड करने तक महिला को वैसे ही रखा गया. जैसे ही फ्लाइट इस एयरपोर्ट पर रुकी वैसे ही पुलिस (Police) ने आकर उस महिला को उड़ान के दौरान हुड़दंग करने और फ्लाइट ऑपरेशन में बांधा डालने के आरोप में गिरफ्तार कर लिया. जिसके बाद महिला को जांच के लिए अस्पताल लेकर जाया गया. महिला ने पुलिस (Police) की पूछताछ में स्वीकार किया कि उसने उड़ान से ठीक पहले सिंथेटिक ड्रग्स का सेवन किया था. रूस के आंतरिक मंत्रालय ने कहा कि महिला को चिकित्सकीय जांच के लिए भी ले जाया गया था ताकि यह पता चल सके कि वह कितनी नशे में थी. मंत्रालय ने कहा है कि इस महिला को फ्लाइट में हंगामा करने के जुर्म में अब कोर्ट ट्रायल का सामना करना होगा.

Check Also

कोरोना से ठीक होने के बाद भी नहीं टलता मौत का खतरा

वाशिंगटन . कोरोना से ठीक हो चुके लोगों में अगले छह महीनों तक मौत का …