नशे में बड़ा भाई छाेटे का गला दबा रहा था पिता ने बचाने सिर पर मारा लट्‌ठ, बड़े की मौत

डूंगरपुर. जिले के सीमलवाड़ा क्षेत्र में नशे में घर आए बड़े भाई ने छाेटे भाई के साथ गालीगलाैज की. इसके बाद छाेटे भाई का गला दबाने लगा. चिल्लाने पर पिता बचाव के लिए आगे आए. घर में रखा लट्ठ बड़े बेटे के सिर पर मार दिया. इससे बड़ा बेटा घायल हाेकर नीचे गिर गया. उसकी माैके पर माैत हाे गई.

सूचना मिलते ही गांव के लाेग आ गए. मामला जिले के धंबाेला थाना क्षेत्र के डूंंका गांव के पालनपुरा फले का है. घटना साेमवार रात 11 बजे की बताई जा रही है. पुलिस (Police) ने छाेटे बेटे की रिपाेर्ट पर प्रकरण दर्ज कर लिया है. वहीं युवक के शव का पाेस्टमार्टम करवा कर परिजनाें काे सुपुर्द कर दिया है. जानकारी के अनुसार डूंका गांव के पालनपुरा निवासी राकेश पुत्र लसु व किशन पुत्र लसु दाेनाें भाई है. किशन छाेटा भाई है. साेमवार रात करीब 11 बजे किशन भी घर पर साेया हुआ था.

इसी दाैरान रात करीब 11 बजे लसु का बड़ा बेटा 35 वर्षीय राकेश शराब के नशे में धुत हाेकर घर पर आया. घर का दरवाजा खटखटाने लगा.दरवाजा खोलने पर तुरंत ही राकेश ने किशन का गला पकड़ कर दबा दिया. इस पर पिता लसु ने टूटे हुए खाट का एक लट्ठ हाथ में लेकर राकेश के सिर पर दे मारा. इस पर राकेश वही गिर पड़ा. इस पर किशन ने आस पड़ोस के लोगों को मौके पर बुलाया. इनके द्वारा देखने पर राकेश की मौत होना पाया गया. जानकारी के अनुसार 65 वर्षीय पिता लसु एक दिन पहले ही मोडासा अस्पताल से ऑपरेशन करा कर घर लौटा था.

युवक के शव का पाेस्टमार्टम करवा कर परिजनाें काे सुपुर्द कर दिया है. जानकारी के अनुसार डूंका गांव के पालनपुरा निवासी राकेश पुत्र लसु व किशन पुत्र लसु दाेनाें भाई है. किशन छाेटा भाई है. साेमवार रात करीब 11 बजे किशन भी घर पर साेया हुआ था. इसी दाैरान रात करीब 11 बजे लसु का बड़ा बेटा 35 वर्षीय राकेश शराब के नशे में धुत हाेकर घर पर आया. घर का दरवाजा खटखटाने लगा.

दरवाजा खोलने पर तुरंत ही राकेश ने किशन का गला पकड़ कर दबा दिया. इस पर पिता लसु ने टूटे हुए खाट का एक लट्ठ हाथ में लेकर राकेश के सिर पर दे मारा. इस पर राकेश वही गिर पड़ा. इस पर किशन ने आस पड़ोस के लोगों को मौके पर बुलाया. इनके द्वारा देखने पर राकेश की मौत होना पाया गया. जानकारी के अनुसार 65 वर्षीय पिता लसु एक दिन पहले ही मोडासा अस्पताल से ऑपरेशन करा कर घर लौटा था.

Check Also

ताइवान में अनुकूल परिस्थितियों से बुजुर्गों के जीवन में आया सुख-संतोष, औसत उम्र बढ़ी

  ताइपे . ताइवान के लोग पहले की तुलना में लंबा जीवन जी रहे हैं …