डेमोग्राफी का बदलाव देश की एकता के लिए खतरा : विजय शर्मा

Photo of author

रायपुर, 10 मई . छत्तीसगढ़ के उप मुख्यमंत्री और गृह मंत्री विजय शर्मा ने देश और प्रदेश की जनसांख्यिकी (डेमोग्राफी) में आ रहे बदलाव पर गहरी चिंता जाहिर की है.

उन्होंने कहा कि डेमोग्राफी का चेंज होना भारत की एकता के लिए बहुत बड़ा खतरा है. हिंदुओं की संख्या कम होने से देश में अराजकता का खतरा भी है. प्रधानमंत्री की आर्थिक सलाहकार परिषद की रिपोर्ट के आंकड़ों के मद्देनजर शर्मा ने कहा कि सामान्यता जनसंख्या में ऐसी बढ़ोतरी नहीं होती, इसलिए, इसमें कितनी संख्या में घुसपैठिए हैं, इस पर भी विचार किया जाना बहुत आवश्यक है. इसे स्पष्ट करना होगा कि किन-किन क्षेत्रों में ऐसा हो रहा है?

विजय शर्मा ने आगे कहा कि डेमोग्राफी का चेंज होना किसी भी स्थान के लिए बहुत बड़ा खतरा होता है. हिंदुओं की सहिष्णुता आदिकाल से पूरी दुनिया के सामने स्थापित है. हिंदू की सहिष्णुता के कारण ही यहां पर अल्पसंख्यक समुदाय फल-फूल रहा है. हमें इसकी खुशी है. लेकिन, हिंदुओं की संख्या कम हो जाए, यह चिंता का विषय है. हिंदुओं की संख्या कम होने से देश में अराजकता आएगी.

उन्होंने आगे कहा कि हिंदुओं की संख्या जिस अनुपात में घटी हुई बताई जा रही है, यह विचारणीय है कि कितने करोड़ों में यह संख्या आएगी और जो जनसंख्या बढ़ी है, वह लगभग 50 प्रतिशत तक बढ़ी है. इतनी जनसंख्या सामान्यता नहीं बढ़ सकती. यह एक गंभीर प्रश्न है कि अगर इस अनुपात में आबादी बढ़ी है तो यह कैसे बढ़ी है? कितनी घुसपैठ हो गई है? इसको स्पष्ट करना होगा कि किन-किन क्षेत्रों में ऐसा हो रहा है? उसकी स्पष्टता पर जाना होगा और इस विषय की गंभीरता को सभी को समझना होगा, भारत ऐसे ही विभाजन का दंश झेल चुका है. ऐसे में डेमोग्राफी का यह बदलाव भारत के लिए बहुत बड़ा खतरा है.

एसएनपी/एकेएस