विशाखापत्तनम, 4 अप्रैल . दिल्ली कैपिटल्स की केकेआर से 106 रन से हार के बाद मुख्य कोच रिकी पोंटिंग ने कहा कि मैच के पहले भाग में उनकी टीम का प्रदर्शन देखकर उन्हें शर्मिंदगी महसूस हुई.

बुधवार शाम एसीए-वीडीसीए स्टेडियम में, सुनील नारायण (85), अंगकृष रघुवंशी (54), आंद्रे रसेल (41) और रिंकू सिंह (26) ने तूफानी पारी खेली. इन पारियों के दम पर केकेआर ने 7 विकेट के नुकसान पर 272 रन बनाए.

पोंटिंग ने कहा, “अभी इस हार का आकलन करना काफी कठिन है. मैं मैच के पहले भाग से लगभग शर्मिंदा था. इतने सारे रन दिए और 17 वाइड फेंकी. हमें अपने ओवर फेंकने में भी दो घंटे लग गए, इसलिए हम दो ओवर पीछे थे, जिसका मतलब है कि अंतिम दो ओवर फेंकने वाले लोगों को सर्कल के बाहर केवल चार फील्डर के साथ गेंदबाजी करनी थी.”

“इस मैच में बहुत सी चीजें हुईं जो अस्वीकार्य थी और बहुत सी चीजें ऐसी है जो एक समूह के रूप में हम बात करेंगे जिन्हें प्रतियोगिता में आगे बढ़ने के लिए तुरंत ठीक करना होगा.”

टीम इस बात से भी निराश थी कि कप्तान ऋषभ पंत ने नारायण और केकेआर के कप्तान श्रेयस अय्यर के खिलाफ अपील पर रिव्यू नहीं लिया, जबकि रीप्ले से पता चलता है कि वे आउट हो सकते थे. साथ ही पंत की कप्तानी में भी कुछ खामियां नजर आई, जिसमें अक्षर पटेल का सही इस्तेमाल न करना भी शामिल है.

इतना ही नहीं बुधवार के मैच में धीमी ओवर गति बनाए रखने के बाद पंत पर 24 लाख रुपये का जुर्माना लगाया गया है जो उनका टूर्नामेंट में दूसरा अपराध है.

एएमजे/आरआर