वित्त बाजार को बजट से बेहतर पारदर्शिता की उम्मीद: डीबीएस

सिंगापुर . भारतीय वित्तीय बाजार को अगले माह पेश होने वाले आम बजट के अधिक पारदर्शी रहने की उम्मीद है. सिंगापुर के बैंकिंग समूह डीबीएस ने एक रिपोर्ट में यह कहा. डीबीएस ने नई रिपोर्ट में कहा,राजकोषीय घाटे में किसी प्रकार की कमी का परिणाम निकट भविष्य में क्रेडिट को लेकर नकारात्मक हो सकता है, लेकिन इस विश्वसनीय योजना के साथ संतुलित बनाने की जरूरत होगी.

रिपोर्ट में कहा गया कि वित्तवर्ष 2019-20 के पहले आठ महीनों में राजकोषीय घाटा लक्ष्य से 15 प्रतिशत ऊपर रहा है. इसका कारण राजस्व का कम संग्रह हो पाना है. डीबीएस ने कहा कि खर्च अभी तक बजट अनुमान के अनुरूप ही है.हालांकि राजकोषीय घाटा का बढ़ना पहले के अनुरूप नहीं है. डीबीएस की अर्थशास्त्री राधिका राव ने कहा,इसका कारण चालू वित्त वर्ष की तीन तिमाहियों में राजकोषीय मोर्चे पर खराब प्रदर्शन के बाद चौथी तिमाही में खर्च व राजस्व संग्रह में तेजी लौटना है. राव ने कहा कि चौथी तिमाही में प्रदर्शन हुआ सुधार पूरे वित्त वर्ष के राजकोषीय घाटा में सुधार लाने में अपर्याप्त होगा.

Check Also

भारत-नेपाल सरहद पर 70 लाख की स्मैक बरामद

बहराइच. सरहद पार नेपाल में स्मैक तस्करों का नेटवर्क फैलता जा रहा है. भारतीय इलाके …