राजस्थान में कबाडिय़ों के यहां ढूंढे जा रहे सिलेंडर

जयपुर (jaipur) . राजस्थान (Rajasthan)में कोरोना से हालात कितने नाजुक हो चुके हैं इसका अंदाजा इसी से लगा सकते हैं कि पहले ऑक्सीजन की कमी से जूझ रहे थे. जैसे-तैसे केंद्र ने दूसरे राज्यों के प्लांटों से ऑक्सीजन कोटा बढ़ाया, लेकिन वहां से लाने के लिए क्रायोजेनिक टैंकर नहीं हैं. वहीं, प्लांट से मरीज तक ऑक्सीजन पहुंचाने के लिए सिलेंडर भी नहीं हैं. देशभर के कबाडिय़ों के पास पुराने ऑक्सीजन सिलेंडर ढूंढे जा रहे हैं.

प्रदेश में ऑक्सीजन लाने के लिए अभी केवल 23 टैंकर हैं. चिकित्सा मंत्री रघु शर्मा ने बर्नपुर, कलिंगनगर और जामनगर जैसे सुदूर स्थानों से ऑक्सीजन लाने के लिए 54 अतिरिक्त टैंकर मांगे हैं. वहीं, प्रदेश सरकार ने चीन और रूस से ऑक्सीजन कांसन्ट्रेटर खरीदने की प्रक्रिया शुरू कर दी है. 15 मई से मिलने शुरू होंगे. रविवार (Sunday) को गहलोत की अध्यक्षता में हुई कोविड रिव्यू बैठक में अतिरिक्त मुख्य सचिव सुबोध अग्रवाल ने यह जानकारी दी.

चीन से दो चरणों में पांच-पांच हजार और रूस से 1100 ऑक्सीजन कांसन्ट्रेटर की खरीद के लिए राज्य सरकार (State government) के अधिकारियों ने इन देशों में स्थित भारतीय दूतावास और संबंधित कंपनियों से संपर्क किया है. वहीं, सीएम गहलोत ने केंद्र से आयात किए जा रहे ऑक्सीजन परिवहन के टैंकरों में राजस्थान (Rajasthan)को जरूरत के मुताबिक टैंकर उपलब्ध कराने के लिए भी अधिकारियों से पैरवी करने को कहा.

Check Also

कोविड अस्पतालों में पर्याप्त बेडों ऑक्सीजन आदि सहित मूलभूत सुविधाएं रखें दुरूस्त:- नोडल अधिकारी

रायबरेली -जनपद के नामित नोडल अधिकारी/अपर मुख्य सचिव, सहकारिता विभाग उ0प्र0 शासन एम0वी0एस0 रामी रेड्डी …