उमरिया/डिंडौरी/मंडला/सिवनी, 31 मार्च . मध्य प्रदेश के मुख्यमंत्री डाॅ. मोहन यादव ने जनजाति बहुल क्षेत्रों – उमरिया, मंडला, डिंडौरी और सिवनी का दौरा करते हुए कांग्रेस के पूर्व मुख्यमंत्री कमलनाथ पर हमला बोला. उन्‍होंने कहा कि कमलनाथ के नेतृत्व में कांग्रेस का जहाज डूब रहा है.

मुख्मयंत्री यादव ने कहा कि कमलनाथ के नेतृत्व में पूरा जहाज डूब रहा है, इसलिए सब के सब लोग कांग्रेस छोड़कर भाजपा में आ रहे हैं. आदिवासी समाज ने बहुत दिनों तक कांग्रेस का साथ दिया था, लेकिन अब कांग्रेस की हालत ऐसी खराब है कि कल ही छिंदवाड़ा जिले के राज परिवार गौंड समाज के विधायक भाजपा में शामिल हुए. सुरेश पचौरी दो-दो बार केंद्रीय मंत्री रहे, उन्होंने कहा कि अब वो कांग्रेस नहीं बची, अब ये कांग्रेस ऐसे जहाज में बैठी है, जिसमें छेद ही छेद है. जब डूबेगी, खुद भी मरेंगे और बाकी को भी मारेंगे. इसलिए 30 हजार से ज्यादा लोग कांग्रेस छोड़कर भाजपा में आ चुके हैं.

उन्‍होंने कहा कि प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी के नेतृत्व में हर क्षेत्र में विकास के कार्य किए जा रहे हैं. जिनके मकान कच्चे हैं, सबको पक्के मकान दिए जाएंगे. प्रधानमंत्री जन मन योजना से सबको 1500 रुपये मिलेंगे. हर महीने लाडली बहनों को 1250 मिल रहे हैं. इस बार पांच तारीख को लाडली बहनों को पैसा मिलेगा. ग्रामीण क्षेत्र में सभी जनजातीय समुदाय की चिंता करने वाली भारतीय जनता पार्टी की सरकार है. उन्होंने कहा कि छिंदवाड़ा जिले के अमरवाड़ा विधायक कमलेश शाह कई पीढ़ियों से कांग्रेस पार्टी में रहे हैं. खुद कमलेश तीन बार से विधायक हैं, लेकिन इस समय प्रदेश और देश के बदलते परिदृश्य के चलते वह कांग्रेस को छोड़कर भाजपा में शामिल हो गए हैं.

मुख्यमंत्री ने कहा कि गरीब और पिछड़े लोग ईमानदार आदमी की पहचान करना जानते हैं, इसलिए कांग्रेस को अभी से चक्कर आ रहे हैं. कभी ईवीएम खराब तो कभी उनका नसीब खराब हो जाता है. कांग्रेस ने आदिवासियों का वोट लिया, लेकिन कभी देश में आदिवासी भाई-बहन को राष्ट्रपति नहीं बनाया. मोदी ने बनाया, मोदी हैं तो मुमकिन है. भारत की प्रगति और दुनिया का नंबर वन देश बनाने के लिए हम सबको मोदी का और भारतीय जनता पार्टी का साथ देना है.

एसएनपी/एसजीके