पटना, 4 अप्रैल . पूर्णिया लोकसभा क्षेत्र से पूर्व सांसद राजेश रंजन उर्फ पप्पू यादव ने गुरुवार को बतौर निर्दलीय प्रत्याशी नामांकन दाखिल कर दिया. नामांकन दाखिल करने के बाद पप्पू यादव के सिर से कांग्रेस ने अपना ‘हाथ’ हटा लिया.

कांग्रेस ने साफ कर दिया कि महागठबंधन के उम्मीदवार के साथ पार्टी है. हालांकि, कांग्रेस के नेता किसी कार्रवाई की बात नहीं करते हैं.

पप्पू यादव के नामांकन भरने पर कांग्रेस के प्रदेश अध्यक्ष अखिलेश प्रसाद सिंह ने कहा कि पार्टी के बाहर नामांकन दर्ज करने की इजाजत किसी को नहीं है. औरंगाबाद सीट गठबंधन के तहत चली गई. वहां से निखिल कुमार की उम्मीदवारी थी, तो उन्होंने तो नामांकन नहीं भरा.

पार्टी विधायक दल के नेता शकील अहमद खान ने कहा कि गठबंधन धर्म के तहत कांग्रेस पूर्णिया में राजद के सिंबल पर लड़ने वाले प्रत्याशी का समर्थन करेगी. महागठबंधन में बिहार की सभी 40 सीटों को लेकर बंटवारा हो चुका है और इस बंटवारे के तहत जिस पार्टी को जो-जो सीट मिली है, उन सभी सीटों पर कांग्रेस उन उम्मीदवारों के साथ है. हम गठबंधन धर्म का पालन करने के लिए पूरी तरह प्रतिबद्ध हैं.

दोनों नेता पप्पू यादव पर कार्रवाई को लेकर कुछ नहीं बोले. इससे पहले पप्पू यादव ने गुरुवार को पूर्णिया से अपना नामांकन पत्र दाखिल किया. पप्पू यादव ने पिछले दिनों अपनी जन अधिकार पार्टी का विलय कांग्रेस में कर दिया था. इसके बाद महागठबंधन के तहत यह सीट राजद के कोटे में चली गई. राजद ने यहां से बीमा भारती को प्रत्याशी बनाया है.

एमएनपी/एबीएम