टीके का उत्पादन बढ़ाने 3,000 करोड़ की जरूरत: सीआईआई सीईओ

नई ‎दिल्ली ( :). सीरम इंस्टीट्यूट ऑफ इंडिया (एसआईआई) के सीईओ अदर पूनावाला ने कहा कि कोविड-19 (Covid-19) वैक्सीन की उत्पादन क्षमता बढ़ाने के लिए करीब 3,000 करोड़ रुपए की जरूरत होगी. पूनावाला ने कहा ‎कि हमें मोटे तौर पर 3,000 करोड़ रुपए की जरूरत है, जो एक छोटा आंकड़ा नहीं है, क्योंकि हमने पहले ही हजारों करोड़ रुपए खर्च कर दिए हैं. हमें अपनी क्षमता निर्माण के लिए अन्य नए तरीके तलाशने होंगे.

उन्होंने कहा कि कंपनी को उम्मीद है कि कोविशील्ड वैक्सीन की उत्पादन क्षमता जून से प्रति माह 11 करोड़ तक बढ़ जाएगी. कंपनी प्रति दिन 20 लाख खुराक का उत्पादन कर रही है. उन्होंने कहा ‎कि हमने अकेले भारत में 10 करोड़ से अधिक खुराक दी हैं और अन्य देशों को लगभग छह करोड़ खुराक का निर्यात किया है.

सीरम इंस्टीट्यूट के साथ ही अन्य वैक्सीन उत्पादकों ने भी मुनाफा न लेने के लिए सरकार से सहमति जताई है. उन्होंने कहा कि दुनिया में कोई भी दूसरी वैक्सीन कंपनी इतनी घटी कीमतों पर टीके उपलब्ध नहीं करा रही है. पूनावाला ने एक साक्षात्कार में कहा कि सीरम इंस्टीट्यूट अन्य के मुकाबले भारत की अस्थाई जरूरतों को प्राथमिकता दे रहा है. कंपनी वर्तमान में छह से सात करोड टीके प्रति माह उत्पादन कर रही है.

Check Also

100 साल के बुजुर्ग ने लगवाई वैक्सीन

नई दिल्ली (New Delhi) . एक ओर जहां कोरोना की दूसरी लहर ने देश और …