तीन वर्ष का कार्यकाल पूरा होने पर मुख्य आर्थिक सलाहकार ने पद छोड़ा


नई दिल्ली (New Delhi) . सरकार के मुख्य आर्थिक सलाहकार केवी सुब्रमण्यम ने तीन वर्ष का कार्यकाल पूरा होने पर शुक्रवार (Friday) को पद छोड़ने की घोषणा की. उन्होंने कहा कि वे अब पुन: अकादमिक कार्यों में जुटेंगे.

सुब्रमण्यम ने ट्वीट किया, ‘मैंने अपना 3 साल का कार्यकाल पूरा होने के बाद शिक्षा जगत में वापस लौटने का फैसला किया है. राष्ट्र की सेवा करना परम सौभाग्य रहा है और मुझे अद्भुत समर्थन और प्रोत्साहन मिला है. पेशेवर जीवन के करीब तीन दशकों में मुझे अभी तक प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी (Prime Minister Narendra Modi) के जैसा अधिक प्रेरक नेता नहीं मिला. आर्थिक नीतियों की उनकी सहज समझ आम नागरिकों के जीवन को ऊंचा करने के लिए एक अचूक दृढ़ संकल्प के साथ मिलती है.’ सुब्रमण्यम ने उन्हें प्रदान किए गए अवसर के लिए प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी (Prime Minister Narendra Modi) और वित्त मंत्री निर्मला सीतारमण को धन्यवाद दिया.

50 वर्षीय केवी सुब्रमण्यम भारतीय प्रतिभूति और विनिमय बोर्ड (सेबी) और भारतीय रिजर्व बैंक (Bank) (आरबीआई (Reserve Bank of India) ) की विशेषज्ञ समितियों में और जेपी मॉर्गन चेस, आईसीआईसीआई बैंक (Bank) और टाटा कंसल्टेंसी सर्विसेज में भी कार्यरत रहे. सरकार ने उनकी जगह नए सीईए के बारे में घोषणा नहीं की है.

Check Also

स्वदेशी स्टार्ट-अप भारत की नीली अर्थव्यवस्था में महत्‍वपूर्ण भूमिका निभाएंगे: मंत्री जितेंद्र सिंह

नई दिल्ली (New Delhi) . केंद्रीय विज्ञान और प्रौद्योगिकी एवं पृथ्वी विज्ञान(स्वतंत्र प्रभार) और अंतरिक्ष …