यूएई में ‘अहलान मोदी’ कार्यक्रम को लेकर भारतीय समुदाय में जश्न का माहौल – indias.news

नई दिल्ली, 13 फरवरी . प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी दो दिवसीय दौरे पर मंगलवार को यूएई रवाना हो गए. जहां वह 14 फरवरी को अबू धाबी के पहले भव्य हिंदू मंदिर (बीएपीएस) का उद्घाटन करेंगे. पीएम मोदी के इस दौरे से पहले अबू धाबी में सालों से रहने वाले हिंदू समुदाय के लोगों में जश्न का माहौल है, सभी लोग प्रधानमंत्री मोदी के लिए आयोजित ‘अहलान मोदी’ कार्यक्रम और हिंदू मंदिर के उद्घाटन से काफी उत्साहित भी हैं.

आदित्य भारद्वाज चार साल से अबू धाबी में लैब असिस्टेंट के तौर पर काम करे हैं. उनका कहना है कि पीएम मोदी के नेतृत्व में भारत की दुनिया में एक अलग पहचान बनी है, जिससे हम सभी गौरवान्वित महसूस कर रहे हैं. मोदी सरकार के कार्यकाल में भारत के रिश्ते बाकी देशों से काफी बेहतर और मजबूत भी हुए हैं.

आदित्य ने कहा कि मोदी सरकार ने विदेशों में रह रहे एनआरआई लोगों के लिए भी बेहतर कार्य किया है.

वहीं अभिषेक शर्मा करीब 10 सालों से अबू धाबी में बैंकिंग क्षेत्र में कार्य कर रहे हैं. उन्होंने प्रधानमंत्री मोदी के विजन, लीडरशिप और डिसीजन मेकिंग क्वालिटी की खूब सराहना की.

इसके साथ ही अभिषेक ने भारत में हो रहे विकास को लेकर भी केंद्र सरकार की सराहना की और कहा ‘मोदी है तो मुमकिन है.’

बिहार के रहने वाले मनोज शर्मा पिछले 25 साल से अबू धाबी में हैं. उन्होंने बताया कि ‘अहलान मोदी’ कार्यक्रम को लेकर न केवल एक समुदाय उत्साहित है बल्कि पूरे भारतवासी जो अबू धाबी में रह रहे हैं उनके लिए यह एक गौरव का पल होगा जब प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी इस कार्यक्रम में शिरकत करेंगे.

भारतीय मूल के श्रवण कुमार भी प्रधानमंत्री मोदी के नेतृत्व वाली सरकार के कार्यों से काफी खुश हैं. उन्होंने बताया कि जिस प्रकार पीएम मोदी ने भारत और विदेशों में रह रहे भारतीयों के लिए कार्य किए हैं वह अकल्पनीय है और उसकी जितनी सराहना की जाए उतनी कम होगी.

इससे पहले पीएम मोदी ने यूएई रवाना से होने से पहले सोशल मीडिया एक्स पर लिखा, ”अगले दो दिनों में मैं विभिन्न कार्यक्रमों में हिस्सा लेने के लिए संयुक्त अरब अमीरात और कतर के दौरे पर रहूंगा, जिससे इन देशों के साथ भारत के द्विपक्षीय संबंध और मजबूत होंगे.

उन्होंने आगे लिखा, पीएम बनने के बाद मेरी यह यूएई की सातवीं यात्रा है, जो यह दर्शाता है कि भारत-यूएई मित्रता को कितनी प्राथमिकता देता है. पीएम मोदी ने लिखा, मैं राष्ट्रपति शेख मोहम्मद बिन जायद अल नाहयान से मिलने के लिए बेहद उत्सुक हूं, मुझे संयुक्त अरब अमीरात में पहले हिंदू मंदिर का उद्घाटन करने का सौभाग्य मिलेगा. मैं अबू धाबी में एक सामुदायिक कार्यक्रम में भारतीय समुदाय को भी संबोधित करूंगा. इसके साथ ही मैं वर्ल्ड गवर्नमेंट समिट को भी संबोधित करूंगा.

एसके/