नंदीग्राम में भाजपा कार्यकर्ता की हत्या के मामले में सीबीआई ने 11 लोगों को गिरफ्तार किया

कोलकाता (Kolkata) . पश्चिम बंगाल (West Bengal) में विधानसभा चुनाव (Assembly Elections)ों के बाद हुई हिंसा के मामले में CBI ने बड़ी कार्रवाई करते हुए 11 लोगों को गिरफ्तार कर लिया है. नंदीग्राम में भाजपा के एक कार्यकर्ता कीहत्या (Murder) कर दी गई थी. शनिवार (Saturday) को CBI ने पूर्वी मिदनापुर के नंदीग्राम से इन लोगों को गिरफ्तार किया. यहां 2 मई को आए विधानसभा चुनाव (Assembly Elections)ों के नतीजों के बाद हिंसा भड़क गई थी और बीजेपी के कार्यकर्ता देबब्रत मैती कीहत्या (Murder) हो गई थी. CBI की इस कार्रवाई को लेकर अब राजनीति भी शुरू हो गई है. टीएमसी ने इस कार्रवाई को बीजेपी की ओर से बदले की साजिश करार दिया है.

टीएमसी ने इस कार्रवाई को नंदीग्राम से ममता बनर्जी को मात देने वाले शुभेंदु अधिकारी के बयान से जोड़ा है. अपने इस कथित बयान में शुभेंदु अधिकारी ने कहा था कि राष्ट्रीय मानवाधिकार आयोग की जांच में जिन लोगों के नाम सामने आए हैं, उन्हें गिरफ्तार किया जाएगा. टीएमसी के आरोपों को खारिज करते हुए भाजपा ने कहा है कि इस ऐक्शन का केंद्र सरकार (Central Government)से कोई लेना-देना नहीं है. पार्टी ने कहा कि CBI की जांच हाई कोर्ट के आदेश पर हो रही है और यह उसके तहत ही ऐक्शन हुआ है. इसका सरकार से कोई ताल्लुक नहीं है. CBI ने भाजपा कार्यकर्ता कीहत्या (Murder) के मामले में जिन लोगों को अरेस्ट किया है, उनमें टीएमसी के नेता शेख सूफियान के दामाद शेख हकीबुल भी शामिल हैं. बता दें कि शेख को ममता बनर्जी का काफी करीबी माना जाता है. नंदीग्राम में हुए चुनाव के दौरान वह ममता बनर्जी के इलेक्शन एजेंट रह चुके हैं.

Check Also

‘देश अंगूठाछाप मोदी के कारण कष्‍ट झेल रहा है’ – कर्नाटक कांग्रेस के बयान पर बवाल

बेंगलुरू (Bengaluru) . कर्नाटक (Karnataka) में दो सीटों पर होने वाले विधानसभा उपचुनाव के पहले …