बेंगलुरु में हॉकी खिलाड़ी वरुण कुमार के खिलाफ पॉक्सो एक्ट के तहत मामला दर्ज – indias.news

बेंगलुरू, 6 फरवरी . कर्नाटक पुलिस ने 22 वर्षीय एयरलाइन अधिकारी की शिकायत के बाद हॉकी प्लेयर वरुण कुमार के खिलाफ पॉक्सो एक्ट के तहत मामला दर्ज किया है.

बेंगलुरु शहर की ज्ञानभारती पुलिस ने 16 साल से कम उम्र की महिला के साथ बलात्कार के आरोप में कुमार के खिलाफ यौन अपराधों से बच्चों की रोकथाम अधिनियम की धारा 4 (2), 5 (एल), 6 और आईपीसी की धारा 376 (3) के प्रावधानों के तहत प्राथमिकी दर्ज की है.

पीड़िता ने अपनी शिकायत में कहा है कि जब वो 16 साल की थी तभी से आरोपी शादी का वादा कर उसके साथ दुष्कर्म और यौन शोषण कर रहा था.

पीड़िता ने कहा, “एक साल पहले मेरे पिता के निधन के बाद आरोपी मेरे पास मुझे सांत्वना देने आया. इसके बाद उसने मुझे बुलाना छोड़ दिया. मेरे फोन को भी नजरअंदाज करने लगा और जब मैंने उसके खिलाफ शिकायत दर्ज कराने का फैसला किया, तो उसने मुझसे दोबारा बातचीत शुरू कर दी. वहीं, जब मैंने उसे शादी करने को कहा, तो उसने मुझसे कहा कि हमें इसी तरह बिना शादी के ही रहना चाहिए. इतना ही नहीं, उसने मुझे धमकी दी कि अगर मैं उस पर शादी का दबाव बनाऊंगी, तो वो मेरी तस्वीरों को सोशल मीडिया पर पोस्ट कर देगा.”

बता दें कि पीड़िता 16 साल की उम्र में वॉलीबॉल में प्रशिक्षु के रूप में चयनित होने के बाद बेंगलुरु के ज्ञानभारती में भारतीय खेल प्राधिकरण कोचिंग सेंटर में प्रशिक्षण ले रही थी. वह महिला छात्रावास में रह रही थी. इसके बाद पीड़िता का इंस्टाग्राम पर आरोपी सेे परिचय हुआ.

आरोपी भी उसी कैंपस से प्रशक्षिण ले रहा था. पीड़िता ने कहा, “मैं नाबालिग थी, इसलिए मैंने उसके मैसेज का कोई जवाब नहीं दिया था. इसके बाद आरोपी ने अपने दोस्तों को मेरे पास भेजना शुरू कर दिया कि वो मेरे साथ नजदीकियां बढ़ा सके. इसके बावजूद भी मैंने किसी भी प्रकार की कोई प्रतिक्रिया नहीं दी.

इसके बाद वो रोने लगा और कहने लगा कि मैं तुम्हारे बिना नहीं रह सकता. जब उसके दोस्तों ने मुझे यह आश्वासन दिया कि वो मेरी सुरक्षा अपनी बहन जैसी करेंगे, तो मैं उससे मिलने के लिए राजी हो गई. जब मेरी उससे मुलाकात हुई, तो वो मुझे शादी करने के लिए बाध्य करने लगा, लेकिन, मैंने उसका प्रस्ताव ठुकरा दिया. आरोपी ने मुझसे कहा कि वो मेरे परिवार को शादी के लिए मना लेगा, तब तक हम एक अच्छे दोस्त की तरह रह सकते हैं.”

पीड़िता ने कहा, “वह मुझे डिनर के लिए जयनगर फोर्थ ब्लॉक के एक होटल में ले गया. डिनर के बाद वो मुझे जबरन कमरे में ले गया, जहां उसने मेरे साथ जबरदस्ती यौन संबंध बनाने की कोशिश की. हालांकि, मैंने उसे कहा कि मैं नाबालिग हूं. मेरी दो बहनें हैं, जिसमें से एक छोटी और एक बड़ी है.”

पीड़िता ने कहा, “मैं शादी की बात पर भरोसा करके उसके साथ पांच साल तक रही. इस दौरान वो मुझे बेंगलुरु के कई होटलों में ले गया, जहां उसने मेरा यौन शोषण किया.”

पुलिस नेे कहा कि वो पीड़िता केे बयान की पुष्टि करेंगे और जल्द ही मामले की जांच शुरू कर आरोपी के खिलाफ आगामी दिनों में कड़ी कार्रवाई करेंगे.

एसएचके/एबीएम