ब्लू ओरिजिन के एनएस-25 मिशन के लिए 19 मई को उड़ान भरेंगे कैप्टन गोपीचंद थोटाकुरा

Photo of author

नई दिल्ली, 16 मई . पायलट गोपी थोटाकुरा ब्लू ओरिजिन के एनएस-25 मिशन के लिए 19 मई को उड़ान भरेंगे. वह पर्यटक के रूप में अंतरिक्ष में जाने वाले पहले भारतीय होंगे.

1984 में रूसी सोयूज टी-11 पर राकेश शर्मा के बाद वह अंतरिक्ष की यात्रा करने वाले दूसरे भारतीय बन जाएंगे.

राकेश शर्मा के बाद भारतीय मूल की ही कल्पना चावला (1997), सुनीता विलियम्स (2006) और राजा चारी (2021) नासा के लिए अंतरिक्ष में जा चुके हैं.

कैप्टन गोपीचंद ने कहा, “ब्लू ओरिजिन के एनएस-25 मिशन के साथ इस ऐतिहासिक यात्रा पर निकलने वाले पहले भारतीय अंतरिक्ष यात्री के रूप में मैं इस यात्रा पर भारत का प्रतिनिधित्व करने के लिए सम्मानित महसूस कर रहा हूं.”

उन्होंने कहा, ”भारत दुनिया भर में स्पेस रिसर्च में अपनी पहचान बना रहा है. यह यात्रा वैश्विक स्तर पर मानवीय प्रयास और सरलता की भावना का प्रतीक है. मुझे उम्मीद है कि यह अन्वेषण विज्ञान, प्रौद्योगिकी, इंजीनियरिंग, कला और गणित के पेशेवरों की भावी पीढ़ियों को प्रेरित करेगा. हम अंतरिक्ष अन्वेषण की सीमाओं को एक साथ आगे बढ़ा रहे हैं.”

कैप्टन गोपीचंद के साथ ब्लू ओरिजिन के एनएस-25 मिशन पर प्रतिष्ठित क्रू सदस्य मेसन एंजेल, सिल्वेन चिरोन, केनेथ एल. हेस, कैरोल स्कॉलर और पूर्व वायु सेना कैप्टन एड ड्वाइट साथ होंगे.

कंपनी के अनुसार, मिशन के पश्चिमी टेक्सस में लॉन्च साइट वन से शुरू होने की उम्मीद है, उड़ान के लिए लॉन्च विंडो 0830 सीटी (7 बजे भारतीय समय) शुरू होगी.

जेफ बेजोस की स्वामित्व वाली कंपनी ने अब तक छह मानव उड़ान मिशन शुरू किए हैं, और 31 लोगों को कर्मन लाइन पर भेजा है, जो जमीन से 100 किलोमीटर ऊपर अंतरिक्ष की अंतरराष्ट्रीय स्तर पर मान्यता प्राप्त सीमा है.

एमकेएस/