बीएसएफ ने गश्ती दल पर तस्करों के हमले के बाद बीजीबी के समक्ष कड़ा विरोध’ दर्ज कराया

नई दिल्ली (New Delhi) . सीमा सुरक्षा बल (बीएसएफ) ने बंगाल में अंतरराष्ट्रीय सीमा के पास अपने गश्ती दल पर तस्करों के हमले के बाद बॉर्डर गार्ड बांग्लादेश (बीजीबी) के समक्ष ‘कड़ा विरोध’ दर्ज कराया है.बात दें कि गश्ती दल के जवानों की जवाबी कार्रवाई में दो बांग्लादेशी तस्कर मारे गए. अधिकारियों ने सोमवार (Monday) को इसकी जानकारी दी. यह घटना रविवार (Sunday) तड़के (लगभग3:35बजे) बंगाल के कूचबिहार (Bihar) जिले में चंगरबंधा सीमा चौकी के पास हुई.बीएसएफ के नॉर्थ बंगाल फ्रंटियर ने कहा, सीमा पर गश्त के दौरान 18-20 बांग्लादेशी तस्करों ने जवानों को घेर लिया. जवानों ने उन्हें वहां से जाने के लिए कहा. हालांकि, उन्होंने ध्यान नहीं देकर जवानों पर हमला किया,इसके परिणामस्वरूप सीमा सुरक्षा बल के कर्मियों को गंभीर चोटें आईं. खतरे को भांपते हुए तथा कोई अन्य विकल्प न बचने पर जवानों ने आत्मरक्षा में गोलीबारी की. सीमा सुरक्षा बल का नॉर्थ बंगाल फ्रंटियर देश के पूर्वी हिस्से में भारत-बांग्लादेश के बीच 4,096 किलोमीटर लंबी अंतरराष्ट्रीय सीमा के 932 किलोमीटर से अधिक क्षेत्र की रक्षा करता है और इसका मुख्यालय कदमतला, सिलीगुड़ी में है. घटनास्थल पर तलाश के बाद भारतीय क्षेत्र में ‘‘करीब 100 मीटर अंदर’’ दो ‘‘बांग्लादेशी तस्करों’’ के शव मिले. इसमें कहा गया, ‘‘बीजीबी को सूचित कर घटना के संबंध में कड़ा विरोध दर्ज कराया गया.’’

Check Also

आयकर विभाग ने 18 अक्टूबर तक करदाताओं को रिफंड किए 92,961 करोड़ रुपए

नई दिल्ली (New Delhi) . देश के आयकर महकमें ने चालू वित्त वर्ष (2021-22) में …