गांव के ही निकले दोनों हत्यारे आरोपी पर पाक्सो एक्ट के तहत होगी कार्यवाही · Indias News

गांव के ही निकले दोनों हत्यारे आरोपी पर पाक्सो एक्ट के तहत होगी कार्यवाही


बाराबंकी. स्थानीय पुलिस (Police) को बड़ी कामयाबी मिली है. डिजिटल सबूतों के जरिए नाबालिग दलित लड़की से गैंगरेप (Gangrape) कर हत्या (Murder) करने वाले आरोपी दिनेश गौतम के बाद आज ऋषिकेश सिंह उर्फ रिशू सिंह को पुलिस (Police) गिरतार किया है. दोनो आरोपियों ने अपना गुनाह कबूल कर लिया है. पुलिस (Police) उससे मिले साक्ष्यों के आधार पर जांच को आगे बढ़ा रही है. शनिवार (Saturday) को डीएम डॉ आदर्श सिंह एएसपी एवं एसपी प्रभारी आरएस गौतम ने पुलिस (Police) लाइन में आयोजित प्रेस वार्ता के दौरान घटना का खुलासा करते हुए बताया.

उन्होंने बताया कि सतरिख थाना अंतर्गत पिपरी टोला सेठमऊ निवासी दिनेश गौतम ने गिरतारी के बाद पूछताछ में एक अन्य आरोपी की जानकारी दी. आरोपी दिनेष गौतम ने पूछतांछ के दौरान पुलिस (Police) को बताया कि ग्राम सेठमऊ निवासी ऋषिकेश सिंह पुत्र विषाल सिंह उसका करीबी साथी है. जिसकी गांव में किराने की दुकान है. घटना के दिन जब अभियुक्त दिनेष गौतम अपनी बहन का इलाज कराने के बाद गांव वापस आ रहा था तभी ऋषिकेश ने उसे बताया कि मृतका आज अकेले धान के खेत में गई है. उसके बाद दोनो अभियुक्तों ने योजनाबद्ध तरीके से घटना को अंजाम दिया. पुलिस (Police) ने दोनो अभियुक्तों के विरुद्ध पॉक्सो एक्ट के तहत धारा 302, 376 के अन्तर्गत मुकदमा पंजीकृत कर जेल भेज दिया है. बताया जाता है कि मृतका नाबालिग थी.

जो प्राथमिक विद्यालय में दर्ज जन्म तिथि प्रमाणपत्र के आधार पर पाया गया. विदित हो कि मृतका युवती बुधवार (Wednesday) की शाम करीब 4 बजे धान काटने गांव से करीब आधा किलोमीटर दूर खेत में गई थी. अंधेरा होने के बाद भी जब युवती घर नही लौटी तो परिजनों को चिंता हुई, जिसके बाद जब युवती का पिता और परिवार के अन्य लोग उसे खोजते हुए खेत पहुचे तो वहां का नजारा देख उनके पैरों तले जमीन निकल गई. परिजनों के मुताबिक खेत मे धान की फसल के बीच युवती का शव अर्धनग्न अवस्था मे पड़ा था और उसी की कमीज से उसके दोनो हाथ पीठ के पीछे करके बंधे हुए थे. शव से करीब 50 मीटर की दूरी पर मृतका की चप्पल पड़ी थी और आस पास की धान की फसल भी रौंदी पड़ी थी. घटना के बाद से ही कानून व्यवस्था के मद्देनजर पिपरी गांव को छावनी में तब्दील कर दिया गया है.

Check Also

सितंबर तिमाही में Gold etf में 2,400 करोड़ का निवेश हुआ

नई ‎दिल्ली. कोरोना (Corona virus) महामारी (Epidemic) की वजह से निवेशक जोखिम भरे साधनों में …