कांग्रेस के श्वेतपत्र पर बीजेपी का पलटवार

नई दिल्ली (New Delhi) . देश में जानलेवा कोरोना (Corona virus) की संभावित तीसरी लहर को लेकर कांग्रेस के पूर्व अध्यक्ष राहुल गांधी ने पार्टी की ओर से एक ‘श्वेत पत्र’ जारी करके मोदी सरकार पर सवाल उठाए. इसको लेकर अब बीजेपी ने राहुल गांधी पर निशाना साधा है. बीजेपी ने कहा है कि जब भी हिंदुस्तान में कुछ अच्छा होता है और देश अच्छा परफॉर्म करता है, तो कहीं न कहीं कांग्रेसियों को उससे चिढ़ होती है. राहुल गांधी से रुका नहीं जाता और वो प्रेस कॉन्फ्रेंस के माध्यम से उस पूरे विषय पर एक प्रश्नचिन्ह लगाने का काम करते हैं. बीजेपी की तरफ से प्रेस कॉन्फ्रेंस करने वाले पार्टी के राष्ट्रीय प्रवक्ता संबित पात्रा ने कहा, ”योग दिवस के साथ ही कल का दिन बहुत महत्वपूर्ण था. कल पूरे विश्व में हिंदुस्तान एक मात्र ऐसा देश बना जिसने एक ही दिन में लगभग 87 लाख लोगों का टीकाकरण किया. कोरोना की लड़ाई में जब भी निर्णायक मोड़ आए तब-तब के राहुल गांधी और कांग्रेस पार्टी ने राजनीति करने की भरसक प्रयास किया है.” संबित पात्रा ने कहा सेकेंड वेव कांग्रेस शासित राज्य से शुरू हुई. कांग्रेस शासित राज्यों में इसका सबसे ज्यादा असर पड़ा और सर्वाधिक मामले आए. सबसे ज्यादा मौतें कांग्रेस शासित राज्यों में हुईं. कांग्रेस शासित राज्यों ने कोवैक्सीन को लेकर इनकार किया और वहां सर्वाधिक मृत्यु दर रही.” पात्रा ने कहा, ‘’राहुल गांधी ने प्रेस कॉन्फ्रेंस करके व्हाइट पेपर की बात की और अड़ंगा लगाने का काम किया है. कहीं न कहीं उन्होंने भारत की कोरोना से इस लड़ाई को डिरेल करने का अथक परिश्रम किया है. राहुल गांधी ने आज पार्टी की ओर से एक ‘श्वेत पत्र’ जारी करके मोदी सरकार से अपील की कि वह तीसरी लहर की आशंका को देखते हुए अभी से पूरी तैयारी करे. इस दौरान राहुल ने सरकार पर कई सवाल भी खड़े किए. हालांकि राहुल गांधी ने कहा, ‘‘इस श्वेत पत्र का लक्ष्य सरकार पर अंगुली उठाना नहीं है. हम सरकार की गलतियों का उल्लेख इसलिए कर रहे हैं ताकि आने वाले समय में गलतियों को ठीक किया जा सके.

Check Also

किसानों से माफी की मांगे विदेश राज्य मंत्री

नई दिल्ली (New Delhi) . तीन काले कानूनों को केंद्र सरकार (Central Government)से वापस लेने …