भोपाल, 4 अप्रैल . कांग्रेस के वरिष्ठ नेता रणदीप सिंह सुरजेवाला के मथुरा से भाजपा सांसद हेमा मालिनी पर टिप्पणी को लेकर मध्य प्रदेश की पार्टी नेत्रियों ने गहरा रोष जताया है. उनका कहना है कि कांग्रेस की पूर्व अध्यक्ष सोनिया गांधी और महासचिव प्रियंका गांधी महिलाओं को सम्मान दिलाने में असमर्थ रही हैं.

महिला मोर्चा की प्रदेशाध्यक्ष और राज्यसभा सदस्य माया नारोलिया एवं पूर्व मंत्री व प्रदेश प्रवक्ता अर्चना चिटनीस ने कहा है कि कांग्रेस पार्टी की मानसिकता हमेशा से महिलाओं की विरोधी रही है. कांग्रेस के शासनकाल में महिला अपराध चरम पर रहता है. आज भी देश के जिन राज्यों में कांग्रेस की सरकारें हैं, वहां महिलाओं का उत्पीड़न अन्य राज्यों की अपेक्षा कई गुना अधिक है.

उन्होंने आगे कहा कि ‘लड़की हूं, लड़ सकती हूं’ का नारा देने वाली कांग्रेस नेत्री प्रियंका गांधी वाड्रा महिलाओं के नाम पर सिर्फ राजनीति करती हैं. कांग्रेस नेताओं द्वारा जब भी महिलाओं से अभद्रता या उत्पीड़न किया जाता है, वे भी अपनी पार्टी में महिलाओं को सम्मान नहीं दिला पाती हैं, हमेशा चुप रहती हैं.

उन्होंने जिक्र किया कि सत्ता में रहते हुए कांग्रेस ने महिलाओं के शिक्षा, स्वास्थ्य, रोजगार और उनके सर्वांगीण विकास के लिए कोई कार्य नहीं किए. यह कृत्य बताता है कि कांग्रेस पार्टी की मानसिकता ही महिला विरोधी रही है. कांग्रेस नेता रणदीप सुरजेवाला ने हमेशा की तरह अब हेमा मालिनी को लेकर जो विवादित बयान दिया है, वह शर्मनाक है. कांग्रेस को इसे लेकर माफी मांगनी चाहिए.

एसएनपी/एबीएम